White Christmas expected in Himachal- बर्फबारी के इंतज़ार में शिमला में जुट रही भीड़, स्पीति जाने वालों के लिये शर्तें तय

Snowfall in Himachal Pradesh

White Christmas expected in Himachal- हिमाचल प्रदेश में इस बार वर्षों बाद व्हाइट क्रिसमस की उम्मीद पूरी हो सकती है। शिमला की खास पहचान व्हाइट क्रिसमस (white christmas in himachal) है. साल 2016 के बाद से क्रिसमस के मौके पर यहां बर्फबारी नहीं हुई है। इससे पहले 1991 में ही क्रिसमस पर बर्फ देखने को मिली थी. इस बार उम्मीद जताई जा रही है कि सैलानियों का व्हाइट क्रिसमस (White Christmas) मनाने का सपना पूरा हो पाएगा. मौसम विभाग ने क्रिसमस से पहले बर्फबारी की संभावना जताई है. ऐसे में 25 दिसंबर को भी बर्फ गिरने के आसार हैं. मौसम विभाग के निदेशक सुरेंद्र पाल का कहना है कि क्रिसमस पर 2016 में बर्फ गिरी थी और 23 दिसंबर को फिर मौसम खराब रहने वाला है. इस बार उम्मीद है 25 दिसंबर को राजधानी शिमला में बर्फबारी हो सकती है. कुछ सैलानियों को निराश होकर भी लौटना पड़ रहा है. सैलानियों का कहना है कि बर्फबारी की उम्मीद लेकर शिमला आये थे, लेकिन बर्फ देखने को नहीं मिली है. क्रिसमस पर बर्फबारी की उम्मीद है और तब तक यहीं रहेंगे.

मौसम विभाग क्या कहता है?

himachal rohtang snow
himachal rohtang snow

मौसम विभाग के अनुसार हिमालयी क्षेत्र में 24 दिसम्बर से ताजा पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो रहा है। इसके प्रभाव से राज्य में 25 और 26 दिसम्बर को अलग-अलग स्थानों पर भारी वर्षा और बर्फबारी हो सकती है। विभाग ने इन दो दिनों के दौरान प्रदेश में भारी वर्षा व बर्फबारी का येलो अलर्ट जारी किया है। विभाग के अनुसार इस दौरान राज्य में अधिकांश स्थानों पर वर्षा होगी जिससे प्रदेश में शीतलहर बढ़ेगी। इस बीच हिमालय क्षेत्र में आज से भी एक पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हुआ है। इसके प्रभाव से आने वाले तीन दिनों तक राज्य के अधिक ऊंचाई वाले कुछ स्थानों पर वर्षा और बर्फबारी हो सकती है।

White Christmas expected in Himachal-पारा और लुढ़का

प्रदेश में बीते दिनों हुई वर्षा और बर्फबारी से कड़ाके की ठंड का दौर जारी है। केलांग प्रदेश का सबसे ठंडा स्थान बना हुआ है। जहां न्यूनतम तापमान माइनस 7.4 डिग्री सैल्सियस दर्ज किया गया। इसके अलावा कल्पा में न्यूनतम तापमान -1.8, मनाली में 0.2, सोलन में 0.1, भुंतर 1.5, मंडी 2.2 और शिमला में 5.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

यह भी पढ़ें:शीतलहर की चपेट में उत्तर भारत, पहाड़ों में बर्फबारी ने गिराया मैदानों का पारा, दिल्ली में तापमान 3.6 डिग्री पहुंचा

White Christmas expected in Himachal

SHIMLA SNOWFALL TODAY

इस बीच मौसम विभाग के ताजा पूर्वानुमानों में क्रिसमस के मौके पर बर्फबारी की सम्भावना को देखते हुए प्रदेश में पर्यटन उद्योग से जुड़े लोगों के चेहरे खिल उठे हैं। राज्य के अधिकांश छोटे-बड़े होटल क्रिसमस और नए साल की पूर्व संध्या के लिए अभी से हाउसफुल हो गए हैं और लोगों को ऑनलाइन बुकिंग नहीं मिल पा रही है। यही नहीं होटलों की दरें भी काफी उंची हो गई हैं। साथ ही बड़ी संख्या में पर्यटकों के पहाड़ों पर पहुंचने के चलते सभी प्रमुख पर्यटक स्थलों पर ट्रैफिक की समस्या भी पैदा हो गई है।

अटल टनल से स्पीति जाने के लिये ये शर्तें..

अटल टनल रोहतांग के माध्यम से लाहौल घाटी में विशेष तौर पर वीकेंड पर पर्यटकों की बड़ी संख्या में आमद के दृष्टिगत ट्रैफिक जाम और अन्य समस्याओं को लेकर लाहौल-स्पीति जिला प्रशासन ने मोटर व्हीकल एक्ट 1988 की धारा 115 के तहत एक आदेश जारी करते हुए घाटी में प्रवेश करने वाले वाहनों के लिए कुछ शर्तें तय की हैं। लाहौल-स्पीति के उपायुक्त नीरज कुमार द्वारा जारी आदेश के मुताबिक अटल टनल के माध्यम से लाहौल घाटी में किसी भी तरह के पर्यटक वाहन ( दोपहिया वाहनों को छोड़कर) सुबह 10 बजे से लेकर दोपहर 3 बजे तक ही प्रवेश कर पाएंगे।

White Christmas expected in Himachal

आगे उन्हीं वाहनों को जाने की अनुमति दी जाएगी जिन पर्यटकों के पास स्थानीय होटलों अथवा होम स्टे में ठहरने की बुकिंग होगी। नीरज कुमार ने कहा कि लाहौल और पांगी क्षेत्र के स्थानीय लोगों पर यह शर्तें लागू नहीं होंगी। उन्होंने कहा कि क्रिसमस और नव वर्ष के उपलक्ष्य पर भी लाहौल घाटी में पर्यटकों की संख्या में इजाफा होने की संभावना है।