बिना वोटर आईडी कार्ड के भी कर सकते हैं मतदान, जानिये कैसे

vote 2

मतदान करने के लिए सबसे जरूरी जो चीज है वह है वोटर आईडी कार्ड यानि, मतदाता पहचान पत्र। बिना इसके आप अपने मताधिकार का इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं। लेकिन अगर आपके वोटर आईडी कार्ड नहीं है और आप अपने संवैधानिक अधिकार का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो क्या करना होगा आइए जानते हैं इसके बारे में विस्तार से-

मतदाता सूची में नाम दर्ज कराएं

voting

निर्वाचन आयोग इस बात के लिए लगातार प्रयासरत है कि ज्यादा से ज्यादा तादाद में लोग मतदान करें। आपके पास वोटर आईडी कार्ड नहीं है, मतदाता के रुप आपका पंजीकरण हो चुका है? वोट देने के लिए आपको सबसे पहले आपको अपना मतदाता सूची में अपना नाम रजिस्टर कराना होगा।

अगर आप अपने निर्वाचन क्षेत्र में मतदाता सूची में नाम दर्ज करवा चुके हैं यानि अपना पंजीकरण करा चुके हैं तो ऐसी स्थिति में आप बिना वोटर आईडी के वोट दे सकते हैं। क्योंकि वोट डालने के लिए सबसे जरूरी है कि आपका नाम वोटर के तौर पर वोटिंग लिस्ट में शामिल हो।

Lok-Sabha-Elections-2019

हालांकि इसके साथ आपको कुछ फोटो अन्य पहचान पत्र भी साथ में रखने होंगे। ये फोटो पहचान पत्र जैसे ड्राइविंग लाइसेंस या पासपोर्ट या आधार कार्ड इत्यादि हो सकते हैं। अगर आपके पास वोटर आईडी कार्ड नहीं है तो इलेक्टोरल फोटो पहचान पत्र (EPIC)की मदद से भी आप वोट दे सकते हैं। रजिस्ट्रेशन ऑफ इलेक्टर्स रुल्स 1960 के 28वें नियम के मुताबिक ये मान्य है।

इलेक्शन मैनुअल के मुताबिक चुनाव आयोग हर चुनाव के पहले मतदाता सूची के उन नामों को जारी करता है जो मतदान करने के योग्य होते हैं। केंद्र या राज्य सरकार की सर्विस आडी कार्ड भी, बैंक या पोस्ट ऑफिस की पासबुक, मनरोगा कार्ड, चुनाव आयोग द्वारा जारी फोटो वोटर स्लिप भी दिखा सकते हैं। अगर आपके पास कार्ड नहीं है तो चिंता ना करें, आपके पास EPIC नंबर तो होगा, इसका मतलब है कि आप मतदाता सूची में रजिस्टर्ड हैं। वोटर आईडी नंबर पाने के लिए फॉर्म नंबर 6 भरना होगा।

यह भी पढें:http://राफेल डील पर केंद्र सरकार को सुप्रीम कोर्ट में झटका, फिर…

वोट डालने के लिए आपको पोलिंग बूथ पर वोटर आईडी कार्ड और वोटर स्लिप ले जाना जरूरी होता है। लेकिन अगर आपके पास वोटर आईडी नहीं भी है तो भी आप वोट डाल सकते हैं। पोलिंग बूथ की लिस्ट में नाम ना हो तो नहीं डाल सकते हैं वोट।