#VirbhadraSingh- जब माल ढुलाई हेलीकॉप्टर में सवार हो गये हिमाचल के पूर्व सीएम वीरभद्र

virbhadra singh old pic

#VirbhadraSingh- हिमाचल प्रदेश में 6 बार मुख्यमंत्री की कुर्सी संभालने वाले वीरभद्र सिंह को लोग राजा साहब के नाम से ज्यादा जानते हैं। यशवंत सिंह परमार के बाद वे एक ऐसे नेता है जिन्हें हिमाचल की जनता बहुत स्नेह सम्मान और प्रेम देती है। डॉ. परमार की तरह उन्हें भी प्रदेश के विकास का अगुवा माना जाता है।

वीरभद्र सिंह से जुड़ा रोचक किस्सा, जो वरिष्ठ पत्रकार ने साझा किया

Virbhadra singh

कुछ घटनाएं कई कारणों से ऐतिहासिक हो जाती हैं। उनसे जुड़े भी कई किस्से हैं। जनसत्ता अखबार के वरिष्ठ पत्रकार अजय श्रीवास्तव ने 1995 का राजा साहब से जुड़ा एक किस्सा शिमला से साझा किया है। किस्सा है तत्कालीन मुख्यमंत्री का लग्जरी हेलीकॉप्टर की जगह माल ढुलाई वाले हेलीकॉप्टर में सफर करना। यह कुछ कुछ वैसा ही था जैसे कि कोई वीआईपी मर्सडीज बेंज की बजाए महिंद्रा पिकअप की सवारी करे। बात 1995 की है। हिमाचल प्रदेश के तत्कालीन मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह को चंबा जिले के जनजातीय क्षेत्र पांगी-किलाड़ जाना था। शायद किलाड़ के पॉवर प्रोजेक्ट का उद्घाटन करना था।

#VirbhadraSingh-सीएम को नहीं मिला हेलीकॉप्टर…

raja 4
FILE

वरिष्ठ पत्रकार लिखते हैं कि जर्नलिस्ट होने के तौर पर उन्होंने मुझे और वेपाराव जी ( Veparao) को साथ चलने को कहा। तत्कालीन कैबिनेट मंत्री रंगीलाराम राव और ठाकुर सिंह भरमौरी के अलावा मुख्य सचिव एके गोस्वामी को भी जाना था। हम सब सुबह -सुबह शिमला के अनाडेल हेलीपैड पर पहुंच गए। सरकारी हेलीकॉप्टर का इंतजार था। कुछ देर बाद पता चला कि उस हेलीकॉप्टर में खराबी आने के कारण नहीं आ पाएगा। कोई दूसरा मुख्यमंत्री होता तो अपना दौरा स्थगित कर देता। लेकिन वीरभद्र सिंह ने ऐसा नहीं किया।

यह भी पढ़ें: स्वदेशी आंदोलन के अग्रणी महानायक थे बिपिन चन्द्र पाल

26 साल पहले का है वाक्या

उन्होंने मुख्य सचिव को किसी दूसरे हेलीकॉप्टर का प्रबंध करने के आदेश दिए। हिमाचल जैसे छोटे राज्य के लिए आज से 26 साल पहले यह मुश्किल काम था। मोबाइल भी नहीं होते थे। मुख्य सचिव एके गोस्वामी ने पुलिस के वायरलेस सेट के जरिए कहीं बात की। कुछ देर बाद संदेश आया कि माल ढुलाई करने वाला हेलीकॉप्टर ही मिल पाएगा। उन्होंने डरते- डरते यह मुख्यमंत्री को बताया।

#VirbhadraSingh माल ढोने वाले हेलीकॉप्टर में बैठकर गये उद्घाटन करने

#virbhadrasingh

वीरभद्र सिंह ने हंसते हुए कहा कि उस में बैठने के लिए कुछ जगह तो होगी या फर्श पर ही बैठना पड़ेगा। मुख्य सचिव ने कहा कि सीटें नहीं, बेंच होती है। इस पर मुख्यमंत्री बोले कि प्रोग्राम रद्द नहीं हो सकता। माल ढुलाई वाला हेलीकॉप्टर ही बुला लो, जाना हर हालत में है। बस फिर क्या था आधे-एक घंटे में मालवाहक हेलीकॉप्टर हाजिर हो गया और हम सब उसमें सवार होकर जनजातीय क्षेत्र पांगी के लिए उड़ चले। मेरे लिए यह कई मायनों में अनूठा अनुभव था। बेहद खूबसूरत पांगी पहली बार देखा। अद्भुत, अकल्पनीय प्राकृतिक सौंदर्य।

यह भी पढ़ें:

कोविड से जूझ रहे हैं पूर्व सीएम की सेहत में सुधार-डॉक्टर

बता दें कि पूर्व सीएम वीरभद्र इन दिनों कोरोना महामारी से जूझ रहे हैं। दो दिन पहले हिमाचल प्रदेश के सीएम जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) ने वीरभद्र सिंह का स्वास्थ्य हाल जाना. जयराम ठाकुर गुरुवार दोपहर को वीरभद्र सिंह का हाल जानने शिमला के आईजीएमसी अस्पताल (IGMC Shimla) पहुंचे. इस दौरान उनके साथ शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज और आईजीएमसी के एमएस डॉक्टर जनकराज भी पहुंचे थे.

बेटे विक्रमादित्य ने दी #VirbhadraSingh की सेहत की जानकारी

बीते सप्ताह विक्रमादित्य सिंह ने भी अपने पिता की हेल्थ के बारे में अपडेट दिया था और बताया था कि उनके पिता की सेहत अब ठीक है और सुधार हो रहा है. जल्द ही अस्पताल से उन्हें छुट्टी मिल जाएगी. इससे पहले भी जब वीरभद्र सिंह को अस्पताल में भर्ती किया गया था तो सीएम उनका हाल जानने पहुंचे थे. बता दें कि वीरभद्र सिंह बीते माह ही कोरोना से स्वस्थ्य होने के बाद चंडीगढ़ के अस्पताल से शिमला आवास पर लौटे थे. लेकिन फिर उन्हें अस्पताल में भर्ती करना पड़ा था.