UPSC Prelims in Offline mode on 10th Oct- मॉक टेस्ट अटेम्प्ट पर रखें फोकस, रिवीज़न है अहम

civil services
civil services

UPSC Prelims in offline mode on 10th Oct- UPSC 10 अक्टूबर 2021 को ऑफलाइन मोड में प्रीलिम्स 2021 आयोजित करेगा. उम्मीदवारों के लिए इस समय सफलतापूर्वक परीक्षा को अटेम्प्ट करने के लिए, एक इफेक्टिव रिवीजन प्लानिंग जरूरी है. एग्जाम डेट, एडमिट कार्ड और अन्य डिटेल्स की ज्यादा जानकारी official website, upsc.gov.in पर उपलब्ध है.

ज्यादा मॉक टेस्ट लें

UPSC
UPSC

एग्जाम की ट्रेनिंग के दौरान कमजोर क्षेत्रों की पहचान करने के लिए कई मॉक टेस्ट अटेम्प्ट करना महत्वपूर्ण है. यह न केवल परीक्षा को क्रैक करने की संभावना को बढ़ाता है, बल्कि उम्मीदवारों को लर्निंग के एरियाज को प्राथमिकता देने में भी मदद करता है. सेल्फ असेसमेंट IAS की तैयारी के सबसे जरूरी भागों में से एक है.
चलिए जानते हैं यहां कुछ ऐसे ही टिप्स.

यह भी पढ़ें: 761 Candidates Clear UPSC Exam Results : शुभम कुमार टॉपर, जागृति दूसरे और अंकिता तीसरे स्थान पर

तैयारी के फोकस को लर्निंग से रिवीजन पर स्विच करें

एग्जाम की रिवीजन उन सभी चीजों को फिर से चेक करने का एक शानदार तरीका है, जिनकी आप पहले स्टडी कर चुके हैं. प्रीलिम्स में अब बस चंद दिन बचे हैं ऐसे में तैयारी के फोकस को सीखने से रिवीजन पर स्विच करना चाहिए. एक मजबूत तैयारी की नींव पर, स्टडी मैटेरियल की रिवीजन करने से छात्रों को उनके द्वारा सीखी गई नॉलिज को मजबूत करने में मदद मिलेगी. इसके अलावा, रिवीजन से उम्मीदवार को सवालों के जवाब देने में आत्मविश्वास भी बढ़ेगा.

पिछले वर्षों के UPSC प्रश्न पत्रों को हल करें

पिछले वर्षों के UPSC प्रश्न पत्रों को हल करना एक पावरफुल टूल है जो उम्मीदवारों को उनकी एग्जाम में परफॉरमेंस को इवेलुएट करने में मदद करता है. पिछले वर्षों के परीक्षा के प्रश्न पत्रों को हल करने से छात्रों को यह जानने में मदद मिल सकती है कि उनकी तैयारी में कहां कमी है. वे अपनी स्ट्रांगनेस और वीकनेस को एनालाइज कर सकते हैं. इसके अलावा जब उम्मीदवारों को यह पता चल जाता है कि सभी प्रश्नों के उत्तर लिखने में कितना समय लगता है, तो यह पेपर के प्रकार और पैटर्न पर उनकी पकड़ को मजबूत करते हुए समय सीमा के दबाव को कम करने में मदद करता है.

यह भी पढ़ें: UPSC Released Marksheet- टॉपर शुभम कुमार को 1054 अंक, जागृति को 1052, अंकिता को मिले हैं 1051 अंक

पॉजिटिव रहें, अच्छी नींद लें

एक डिटेल्ड टाइम टेबल होने से उम्मीदवारों की परीक्षा की तैयारी को आसान बनाने में मदद मिल सकती है और सिविल सेवा परीक्षा के आसपास के तनाव और चिंता को दूर करने के साथ-साथ अध्ययन को अधिक सुव्यवस्थित बनाने में मदद मिल सकती है.

उम्मीदवारों को परीक्षा प्रक्रिया के दौरान पॉजिटिव बने रहना अहम है. व्यायाम और विभिन्न शौक में शामिल होकर शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ रहना परीक्षा के उम्मीदवारों को उनकी यूपीएससी की तैयारी के दौरान स्वस्थ रखने के लिए महत्वपूर्ण है. इस दौरान अच्छी नींद लें और हेल्दी खाए.