पुरुषों को नसबंदी की ज़रूरत नहीं, एक इंजेक्शन ही काफी है…

अब पुरुषों को नसबंदी से घबराने की ज़रूररत नहीं है। फैमिली प्लानिंग ( FAMILY PLANNING) के बारे में सोच रहे लोगों के लिये अच्छी खबर है कि भारतीय वैज्ञानिकों ने पुरुषों के लिए एक कॉन्ट्रासेप्टिव इंजेक्शन तैयार किया कर लिया है। यानी पुरुषों को अब नसबंदी की जरूरत ही नहीं होगी।

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च ( indian council of medical research) की अगुवाई में क्लिनिकल ट्रायल भी पूरा हो चुका है। आईसीएमआर ( ICMR)  के वैज्ञानिक डॉ आरएस शर्मा ने बताया कि यह रिवर्सिबल इनबिशन ऑफ स्पर्म अंडर गाइडेंस (Reversible Inbreeding of Sperm Under Guidance ) है, जिसकी सफलता दर 95 फीसदी से अधिक है।

इंजेक्शन 13 वर्षों तक प्रभावी रहेगा। आईआईटी खड़गपुर ( IIT KHARAGPUR) के वैज्ञानिक डॉ एसके गुहा ने इस दवा की खोज की है। जिन दो नसों में स्पर्म ट्रैवल करता है, उन्हीं में इंजेक्शन दिया जाता है, जिसके बाद नेगेटिव चार्ज (Negative charge )  होने लगता है और स्पर्म (Sperm) टूट जाता है, जिससे प्रेगनेंसी का चांस नहीं रहता।

icmr has made an ejection for men, with the help of which they will not be able to become a father for 13 years. In the two veins, the sperm travels, the injection is given in it, after which the negative charge starts to occur and the sperm breaks, which prevents pregnancy.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here