Indian idol जीतकर खुश हैं सनी, मां को देते हैं जीत का श्रेय

Sunny Hindustani from Bhatinda wins Indian Idol season 11 (6)

Indian idol जीतकर पंजाब का पुत्तर सनी हिन्दुस्तानी खुश है। वह अपने सपने को साकार करने के लिये जितना शुक्रगुज़ार अपनी मां का है उतना ही इंडियन आइडल के मंच का भी है।

Indian idol जीतकर सबसे पहले आपके दिमाग में क्या ख्याल आया? 

मैं बयां नहीं कर सकता कि जब इंडियन आइडल के विनर के तौर पर मेरे नाम की घोषणा हुई तो मैं कितना खुश था। मुझे यकीन नहीं हुआ कि मुझे यह प्रतिष्ठित ट्रॉफी मिली है जो कि सभी गायकों का एक सपना होता है। इंडियन आइडल के ऑडिशन के समय से ही मेरा सपना था कि मैं यह ट्रॉफी अपने हाथों में लूं और आखिर जब मैंने इसे अपने हाथों में लिया तो उस पल में यकीन करने के लिए कुछ वक्त लगा। 

Sunny Hindustani

 मैं टॉप 15 में पहुंचा और मैंने कंपटीशन देखा तो मैं जानता था कि यह आसान नहीं रहने वाला लेकिन मुझे एक बात पता थी कि इस प्रतियोगिता में मुझे दिलो जान से मेहनत करना होगा और मैंने यही किया। जब मुझे इंडियन आइडल का विजेता घोषित किया गया, तब मुझे एहसास हुआ कि मेरी मेहनत रंग लाई।

जब आप Indian idol जीतकर जजों के पास गये तो जजों के क्या रिएक्शन थे?
Sunny Hindustani from Bhatinda wins Indian Idol season 11 (1)

मैंने ट्रॉफी जीती तो तीनों जज बेहद खुश थे। इंडियन आइडल के सफर में नेहा, विशाल सर और हिमेश सर ने मुझे बहुत सपोर्ट किया। मेरे ऑडिशन के समय से ही उन्होंने मुझमें विश्वास जताया और मेरे अंदर यह आत्मविश्वास जगाया कि मुझमें टॉप 2 में शामिल होने की क्षमता है। उनके इस असीमित सहयोग की वजह से ही मैं हफ्ते दर हफ्ते इतने कॉन्फिडेंस के साथ परफॉर्म कर सका। इन तीनों ने मुझमें हमेशा विश्वास रखा।

यह भी पढ़ें : https://www.indiamoods.com/indias-talent-hunt-on-tv-from-12th-oct-11th-season-of-indian-idol/

हिमेश ने सनी को साइन किया

मुझे यकीन नहीं हो रहा है कि हिमेश सर ने मुझे अपनी आगामी फिल्म के लिए साइन किया है और इसके लिए मैं उनका बेहद शुक्रगुजार हूं। इस सफर में मैंने जजों और हमारे म्यूज़िक गुरु – महेश सर और नीरज सर से बहुत बातें सीखीं। नीरज और महेश सर के साथ हमारी रोज क्लास होती थी और इसमें मैंने संगीत के बारे में बहुत कुछ सीखा। मुझ जैसे एक बूट पॉलिश करने वाले को इस शो ने इतना कुछ दिया है कि मैं इंडियन आइडल का हमेशा आभारी रहूंगा।

जब आप इंडियन आइडल सीजन 11 में सिलेक्ट हुए तो आपका सबसे पहला रिएक्शन क्या था?
Mayank Pareek

जब मुझे टॉप 15 में चुना गया, तो मुझे इस बात की बेहद खुशी थी कि मुझे म्यूजिकल जानर के सबसे मशहूर शोज़ में से एक में चुना गया है। यह कुछ ऐसा था, जिसका मैंने सिर्फ सपना देखा था। मैं एक ऐसे शो का प्रतिभागी बन गया था, जिसे मैं बचपन से देख रहा था! हालांकि जब इंडियन आइडल के लिए मेरा ऑडिशन हुआ, तब मैंने कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि मैं ट्रॉफी जीत सकता हूं। 

मंच पर पहली बार गाने से लेकर दीपिका पादुकोण, कार्तिक आर्यन, कंगना राणावत, अजय देवगन, काजोल, धर्मेंद्र, प्यारेलाल जी और कई अन्य हस्तियों के सामने गाने का यह अनुभव मैं हमेशा याद रखूंगा। इंडियन आइडल ने मुझे उन लोगों के सामने गाने का अवसर दिया, जिन्हें मैंने सिर्फ टेलीविजन पर देखा था।

अपने सहभागियों के साथ आपकी बॉन्डिंग कैसी थी?

Sunny Hindustani f

इस सफर की सबसे अच्छी बात यह थी कि मुझे सह प्रतिभागियों के रूप में एक नया परिवार मिल गया। मैंने इन सभी से बहुत कुछ सीखा। बहुत कम समय में ही मुझे ऋषभ चतुर्वेदी जैसा भाई और जन्नबी दास और चेतना भारद्वाज जैसी बहनें मिलीं। 

मुझे यकीन है कि हम जिंदगी भर एक दूसरे से जुड़े रहेंगे। रिहर्सल के बाद हर शाम हम लोग साथ बैठकर खूब मस्ती करते थे। इन्हीं लोगों के कारण मुझे अपनी फैमिली की याद कम ही आई, भले ही हम लोग इतने लंबे समय तक अपने घरों से दूर रहे। सारा वक्त हमने साथ गुजारा और हम इसे बहुत मिस करेंगे।

इंडियन आइडल जीतने के बाद अब आपकी क्या योजना है

सबसे पहले मैं गुरुद्वारा जाकर मत्था टेकना चाहूंगा। इसके बाद मैं अपने परिवार के साथ कुछ अच्छा वक्त बिताना चाहूंगा क्योंकि मैं लंबे समय से उनसे दूर रह रहा था। पेशेवर तौर पर मैं बॉलीवुड फिल्मों में अपनी आवाज देना चाहूंगा और एक सिंगर के रूप में गाना चाहूंगा।

Sunny Hindustani from Bhatinda

 ईश्वर के आशीर्वाद और इंडियन आइडल के मंच का शुक्रिया कि मैं पहले ही दो फिल्मों के लिए गाने गा चुका हूं। लेकिन यह तो बस शुरुआत है। मुझे अब दोहरी मेहनत करना होगा ताकि मैं उस नाम को बरकरार रख सकूं जो मैंने इंडियन आइडल की मदद से हासिल किया है।

सनी आपको दुनिया भर के लोगों का जो प्यार और सहयोग मिलावो बहुत शानदार रहा। इस बारे में आपका क्या ख्याल है?

भारत और दुनिया भर के लोगों से मिले प्यार के लिए मैं सभी का बहुत आभारी हूं। सोशल मीडिया पर भी देशभर के लोगों से मिले प्यार ने मुझ जैसे जूते पॉलिश करने वाले को एक सेलिब्रिटी बना दिया। मैं एक एनआरआई दंपति का शुक्रगुजार हूं जिन्होंने बठिंडा में मेरा घर दोबारा बनवाने में मदद की। उनके प्रेरक मैसेज मेरी सभी परफॉर्मेंस के बाद हमेशा बेहतर परफॉर्म करने के लिए मेरा हौसला बढ़ाते रहें।

Indian idol जीतकर क्या संदेश देना चाहेंगे औरों को और इस बड़ी जीत का श्रेय किसको देंगें?

सारे स्ट्रगलर्स से कहूंगा कि हिम्मत न हारें। इस जीत का श्रेय मैं अपनी माँ को देता हूँ. आज जो भी हूँ माँ की बदौलत हूँ.