पुलवामा आतंकी हमले में इस शख्स की कार का हुआ था इस्तेमाल

पुलवामा आतंकी हमले में जांच एजेंसी एनआईए के हाथ बड़ी सफलता लगी है। एजेंसी ने हमले में इस्तेमाल कार के मालिक का पता लगा लिया है।  कहा जा रहा था कि इस आत्मघाती हमले को एसयूवी या स्कॉर्पियों के जरिए अंजाम दिया गया था लेकिन अब एनआईए ने इसे लेकर अहम खुलासा किया है। इस हमले में इस्तेमाल होने वाली गाड़ी  मारुति इको थी और उसके मालिक का नाम सज्जाद भट्ट है जो अनंतनाग जिले का रहने वाला है। इस हमले के बाद से ही वह फरार है। 

एनआईए के जांचकर्ताओं ने फोरेंसिक और ऑटोमोबाइल विशेषज्ञों की मदद से इस बात का पता लगाया है कि पुलवामा आतंकी हमले में जो वाहन प्रयोग में हुआ था वह मारूति इको थी। खबरों की मानें तो इसके मालिक सज्जाद भट्ट ने आतंकी संगठन जैशमोहम्मद का दामन थाम लिया है। सज्जाद भट्ट की एक तस्वीर सोशल मीडिया में वायरल हो रही है जिसमें वह हाथों में हथियार लिए नजर रहा है।

पुलवामा हमले में इस्तेमाल हुई कार का यह है नंबर

pulwama car

मारूति ईको की चेसिस का नंबर MA3ERLF1SOO183735 तथा इंजन का नंबर G12BN164140  को हेवन कॉलोनी, अनंतनाग के रहने वाले जमील अहमद हक्कानी को 2011 में बेच दिया गया था। इसके बाद गाड़ी को सात बार बेचा गया और अंत में यह गाड़ी 4 फरवरी 2019 को सज्जाद भट के पास पहुंची जो अनंतनाग के बिजबेहरा का रहने वाला था। सज्जाद सिराजउलउलूम, शोपियां का छात्र था। जम्मूकश्मीर पुलिस की मदद से एनआईए की एक टीम ने 23 फरवरी को सज्जाद के घर पर छापा मारा। हालांकि तब तक सज्जाद फरार हो चुका था।

बताया जा रहा है कि आतंकी को अंजाम देने वाला पुलवामा का ही आदिल अहमद डार था। इस हमले के कुछ मिनट बाद ही मैसेजिंग प्लेटफॉर्म्स पर एक युवक की तस्वीर और दो वीडियो तेज़ी से सर्कुलेट होने लगे। इन दोनों वीडियो में इस युवक ने पुलवामा हमले की जिम्मेदारी ली। वीडियो में खुद को जैश-ए-मोहम्मद का आतंकवादी होने का दावा करने वाले युवक ने खुद की पहचान पुलवामा के काकापोरा इलाके के गांदीबाघ के आदिल अहमद डार उर्फ वकास कमांडर के रूप में हुई। वह एक साल पहले ही आतंकी संगठन से जुड़ा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here