Sarthak Kapoor यंग हैं, साई बाबा के रोल में जंच रहे हैं, Hit-Flop आप ही डिसाइड करेंगे

Sarthak Kapoor। नाम ही दम-खम वाला है। Sarthak Kapoor प्रोडक्शन, क्रिएटिविटी और एडिटिंग में अपनी दक्षता दिखाते हुए अब अभिनेता के तौर पर हुनर का प्रदर्शन कर अपने नाम को सार्थक साबित कर रहे हैं।

Sarthak Kapoor और विकास की जोड़ी

विकास और सार्थक। यह दोनों नाम अपने आप में काफी महत्वपूर्ण हैं। विकास का मतलब है लगातार आगे बढ़ते रहना और सार्थक के मायने किसी काम को सही तरह से अंजाम देना है। विकास कपूर एक विख्यात लेखक और निर्माता हैं जबकि उनके बेटे सार्थक कपूर प्रोडक्शन, क्रिएटिविटी और एडिटिंग में अपनी दक्षता दिखाते हुए अब अभिनेता के तौर पर हुनर का प्रदर्शन कर अपने नाम को सार्थक साबित कर रहे हैं।

साई बाबा बने सार्थक कपूर से बातचीत : https://www.youtube.com/watch?v=xE_fGQ4-x8E

रोज़ देखें धारावाहिक अनंतकोटि ब्रह्मांड नायक साईबाबा

तिरुपति फिल्म्स के बैनर तले बन रहे दैनिक धारावाहिक,’अनंतकोटि ब्रह्मांड नायक साईबाबा’ में पिता-पुत्र का वजूद दर्शकों को दिखाई दे रहा है। प्रत्येक सोमवार से शुक्रवार रात 8.30 बजे ‘डी डी किसान’ चैनल पर प्रसारित इस धारावाहिक में पहली बार लोगों को साईबाबा का जीवन चरित्र, शिक्षा व उनके जीवन के उद्देश्य को उनके बचपन, युवा व वृद्धा अवस्था के जरिये दिखाया जा रहा है। इसमें साईबाबा के युवावस्था का रोल सार्थक कपूर कर रहे है।

Sarthak Kapoor जानें क्या कहते हैं

सार्थक कपूर कहते हैं कि मेरे पापा विकास कपूर इस धारवाहिक के निर्माता व लेखक है। जिन्होंने अब-तक लगभग 6000 घंटों के कार्यक्रम अपनी कलम से लिखे हैं। उनकी फिल्म शिर्डी साईबाबा’ को राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। बकौल सार्थक इस शो के माध्यम से सभी तक बाबा के पूरे जीवन की कहानी पहुंचेगी। किस तरह गांव-देहात का एक अनजान-सा बालक, अनंतकोटि ब्रह्मांड नायक साईबाबा बन गया। लोग राम व कृष्ण के पैदा होने से लेकर भगवान व अवतार बनने की कहानी तो जानते है, लेकिन साईबाबा के बचपन और युवावस्था की कहानी नहीं जानते। साईबाबा के बचपन का संघर्ष, साधना, तपस्या आदि को विस्तार से इस शो में दिखाया गयाहै। सार्थक कहते है कि यह शो बाबा बालक नाथ की जर्नी है जब उनकी उम्र 13-14 साल रही होगी। यह मेरे लिए काफी चैलेंजिंग था।’

Sarthak Kapoor साई के गेटअप में

इस धारावाहिक में साईं का चरित्र निभाना, मैं उन्हीं की कृपा मानता हूं।मुझे लगता है कि साईबाबा के जीवन के उद्देश्य, उनके ज्ञान, जन समस्याओं के समाधान का तरीका, लोगों तक पहुँचाने में हमलोग जरूर कामयाब होंगे। साईबाबा के युवा अवस्था की भूमिका निभाने वाले युवा व टैलेंटेड प्रतिभाशाली अभिनेता सार्थक कपूर क्रिकेट पर बन रही फिल्म “चल जीत ले ये जहाँ” के नायक भी हैं।