ज़म्मू में श्राइन बोर्ड हर दिन 500 मुस्लिम लोगों को करा रहा इफ्तार

sehri

कटरा में दिखी मज़हबी एकता: ये वो तस्वीर है जो बताती है कि भारत की हिंदू-मुस्लिम एकता कश्मीर से ही प्रारंभ होती है…जम्मू के माता वैष्णो देवी मंदिर का संचालन करने वाले श्राइन बोर्ड ने हिंदू मुस्लिम एकता की बड़ी मिसाल पेश की है….

श्राइन बोर्ड की बिल्डिंग बनी क्वारंटीन सेंटर

कोरोना संकट के दौर में श्राइन बोर्ड ने न सिर्फ अपनी बिल्डिंग को क्वारंटाइन सेंटर में तब्दील कर दिया, बल्कि उससे भी एक कदम आगे बढ़ते हुए उस क्वारंटीन सेंटर में रह रहे करीब 500 मुस्लिमों  के लिए रमजान में सहरी और इफ्तार का इंतजाम कर रही है.

कटरा में दिखी मज़हबी एकता, 500 मुस्लिम रोज़ेदारों के खाने का इंतज़ाम कर रहा श्राइन बोर्ड

कोरोना संकट और लॉकडाउन के चलते लगभग 500 मुस्लिम समुदाय के लोगों को कटरा के आशीर्वाद भवन में क्वारंटीन किया गया है. रमजान के मौके पर श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने इन सभी लोगों को सहरी और इफ्तारी देकर शानदार मिसाल कायम की…

यह भी पढ़ें: वैष्णो देवी यात्रा पर भी कोरोना का असर, मंदिर बंद, लाइव करें दर्शन

वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड की बिल्डिंग आशीर्वाद भवन को श्राइन बोर्ड ने क्वारंटाइन सेंटर बना

कोरोना काल में कटरा में मौजूद वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड की बिल्डिंग आशीर्वाद भवन को श्राइन बोर्ड ने क्वारंटाइन सेंटर बना दिया है. इस क्वारंटाइन सेंटर में करीब 500 मुस्लिमों को क्वारंटीन किया गया है. रमजान के महीने में यहां क्वारंटाइन मुस्लिम समाज के लोग रोजा रख रहे हैं… श्राइन बोर्ड के किचन में शेफ दिन रात खाना बनाते हैं. सेहरी और इफ्तारी के टाइम के मुताबिक इन लोगों को भोजन दिया जाता है.माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड की मेहमान नवाजी से क्वारंटाइन सेंटर में रह-रहे रोजेदार भी खुश हैं.