Recruitments will intensify after the corona epidemic- अगले 3 महीनों में 49% कंपनियां देंगी और नौकरियां

gov jobs
gov jobs

Recruitments will intensify after the corona epidemic-कोरोना वायरस महामारी के कारण बने हालात में सुधार के चलते Indian employers ने अगले तीन माह के दौरान नियुक्ति गतिविधियां तेज रहने की उम्मीद जताई है। मंगलवार को जारी एक सर्वेक्षण में कहा गया है कि 49 प्रतिशत कंपनियां जनवरी-मार्च की तिमाही में और नियुक्तियां करने की योजना बना रही हैं। मैनपावर ग्रुप के रोजगार परिदृश्य सर्वे के मुताबिक, भारत में भर्तियों का माहौल बीते 8 वर्ष में सबसे मजबूत है। पिछली तिमाही के मुकाबले इसमें 5 प्रतिशत अंक की वृद्धि हुई है और एक वर्ष पहले की समान अवधि के मुकाबले इसमें 43 फीसदी अंक का इजाफा हुआ है।

कर्मचारियों की संख्या बढ़ा सकती है कंपनियां

jobs from home

यह सर्वे 3,020 नियोक्ताओं पर किया गया जिनमें से 64 प्रतिशत ने कहा कि वे कर्मचारियों की संख्या बढ़ा सकते हैं। 15 फीसदी को कर्मचारियों की संख्या घटने का अनुमान है जबकि 20 प्रतिशत मानते हैं कि किसी तरह का बदलाव नहीं होगा।

Recruitments will intensify after the corona epidemic

इस तरह शुद्ध रोजगार परिदृश्य 49 प्रतिशत बैठता है। ऐसे नियोक्ता जिनका अनुमान है कि भर्तियां गतिविधियों में वृद्धि होगी उनकी संख्या में से ऐसे नियोक्ताओं की संख्या को घटाना जिनका मानना है कि भर्तियां संबंधी गतिविधियों में कमी आएगी, इसे शुद्ध रोज़गार परिदृश्य कहा जाता है। मैनपावर इंडिया के प्रबंध निदेशक संदीप गुलाटी ने कहा कि भर्तियों के परिदृश्य में वृद्धि इस बात का संकेत है कि महामारी के बाद के पुनरुद्धार को लेकर नियोक्ताओं का भरोसा बढ़ा है।

यह भी पढ़ें: Rolls Royce Unnati Scholarship- समेत इन छात्रवृत्तियों के लिये जल्द करें आवेदन

आईटी, मीडिया में बढ़ेंगी नौकरियां


सर्वे के मुताबिक, डिजिटल भूमिकाएं सर्वाधिक मांग में हैं। आईटी, प्रौद्योगिकी, दूरसंचार, संचार और मीडिया क्षेत्र का परिदृश्य 60 प्रतिशत के साथ सबसे मजबूत है।
इसके बाद 56 फीसदी के साथ रेस्तरां एवं होटल आते हैं और फिर 52 प्रतिशत के साथ बैंकिंग, वित्त, बीमा और रियल एस्टेट आते हैं। इसके साथ ही सर्वे यह भी बताता है कि अधिकाधिक नियोक्ता कार्यस्थल के साथ-साथ घर से काम यानी ‘हाइब्रिड वर्किंग’ को अपना रहे हैं।