पुलवामा हमले पर राम गोपाल यादव के बिगड़े बोल, कहा-वोट के लिए मारे जवान

पुलवामा हमले पर राम गोपाल यादव के विवादित बयान ने राजनीति गर्मा दी है। रामगोपाल यादव ने पुलवामा आतंकी हमले को सजिश करार दिया है। उन्होंने कहा कि वोट के लिए जवानों को मारा गया है। रामगोपाल यहीं नहीं रुके उन्होंने ये भी कहा कि अगर दूसरी सरकार बनी और जांच हुई, तो कई बड़े लोगों के नाम सामने आएंगे।

सैफई में होली मिलन समारोह के दौरान सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव की उपस्थिति में राम गोपाल ने कहा- ‘पैरामिलिट्री फोर्सेज सरकार से दुखी हैं। वोट के लिए जवान मार दिए गए। जम्मू-श्रीनगर के बीच में चेकिंग नहीं थी। साधारण बसों से जवानों को भेज दिया गया। यह साजिश थी।

badgam encounter

सरकार बदलेगी तब होगी मामले की जांच
इटावा के सैफई में होली पर आयोजित समारोह में समाजवादी पार्टी के प्रमुख राष्ट्रीय महासचिव प्रो. रामगोपाल यादव ने कहा कि मैनपुरी संसदीय सीट से नेता जी मुलायम सिंह यादव चुनाव लड़ रहे हैं लेकिन उनकी जानकारी में आया है, जहां पर सपा समर्थकों की तादात है वहां वहां पर पैरामिलेट्री फोर्स की तैनाती की जा रही है लेकिन पैरामिलेट्री के अफसर बहुत ही दुखी हैं। प्रो. रामगोपाल ने 14 फरवरी को जम्मू कश्मीर में पुलवामा हमले का जिक्र करते हुए कहा कि जम्मू-श्रीनगर के बीच चेकिंग नहीं की थी, जवानों को सादी बस में भेजा गया, ये साजिश थी। उन्होंने कहा कि इस साजिश के बारे में अभी कुछ नहीं कहना चाहता हूं लेकिन जब सरकार बदलेगी तब इस मामले की जांच होगी और बड़े-बड़े लोग फंसेंगे।

साफ है सभी पार्टियां आतंकी हमले को राजनीतिक रंग दे रही हैं लेकिन जवानों की शहादत का ये मजाक किसी भी मायने में सही नहीं है क्योंकि फोर्सेज का मनोबल ऊपर रहेगा तभी हम सुरक्षित रहेंगे।