उत्तर प्रदेश में Gangsters की 262 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति जब्त

gangsters

उत्तर प्रदेश में गिरोहबंद अपराधियों के खिलाफ जारी अभियान के तहत 262 करोड़ रुपये से ज्यादा की संपत्ति जब्त की गई है। गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने मंगलवार को बताया कि प्रदेश में गिरोहबंद अपराधियों के खिलाफ बहुत मजबूती से अभियान चलाया जा रहा है।

262 करोड़ रुपये से ज्यादा की संपत्ति जब्त

उन्होंने बताया कि पिछले शनिवार तक गैंगस्टर अधिनियम की धारा-14 के तहत गिरोहबंद अपराधियों (gangsters in Uttar Pradesh) की 262 करोड़ रुपये से ज्यादा की संपत्ति जब्त की जा चुकी है। पिछले एक सप्ताह में ही 66 करोड़ रुपये की संपत्ति भी अलग-अलग जिलों में जब्त की गई है। अवस्थी ने बताया कि पूरे प्रदेश में गैंगस्टर अधिनियम के तहत अब तक 3,112 गिरोह चार्ट बनाए गए हैं और इनमें से 3,110 को जिलाधिकारियों ने अनुमोदित कर दिया है।

अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई

vikas dube 2

न्यायालयों में भी गिरोह चार्ट भेजते हुए अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने कहा कि अधिनियम के तहत चलाए गए अभियान में काफी सफलता मिली है। हर सप्ताह इस अभियान की समीक्षा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के स्तर से की जाती है। अपर मुख्य सचिव ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीम-11 की बैठक में लखनऊ और कानपुर में कोविड-19 मरीजों के ठीक होने की दर को बेहतर करने के लिए काम करने के निर्देश दिए।

एसजीपीजीआई और केजीएमयू में Covid 19 अस्पताल

उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री योगी ने लखनऊ स्थित एसजीपीजीआई और केजीएमयू में सामान्य ओपीडी शुरू करने के निर्देश देने के साथ-साथ कहा है कि अब लखनऊ के राम मनोहर लोहिया अस्पताल को कोविड-19 अस्पताल के रूप में संचालित किया जाए। अवस्थी ने बताया मुख्यमंत्री ने गौतमबुद्ध नगर जिले में प्रस्तावित फिल्म सिटी के लिए यमुना एक्सप्रेस-वे प्राधिकरण द्वारा सोमवार को दिए गए प्रस्ताव को स्वीकार करने का निर्देश भी दिया है।