संकेतों को पहले से जान लें, संकेतों को इग्नोर नहीं करें, खतरा टल जाएगा

संकेतों को पहले से जान लें। अपने घर का अवलोकन करें। गौर से देखें। फिर सभी को दुरूस्त कराएं। क्योंकि संकेतों को पहले से समस्या टल जाती है। जीवन शान से तभी जिया जा सकता है जब हम सभी दिमाग, मन, सोच को एक करें। घर, दुकान, फैक्ट्री फार्महाउस को गौर से देखें। वहां मौजूद समस्या वाले संकेतों को देखते ही उन्हें सुलझाएं।

1 घड़ियां बंद हो जाएं, तो संकेतों को समझें। काम बिगड़ सकते हैं और प्रियजन के साथ बुरा घटने वाला है।

2 छत पर पक्षी मरे हुए मिलें तो समझ लें कि बच्चों की तबीयित बिगड़ सकती है।

3 दीवारों पर अगर सीलन आने लगे, तो समझ लें कि मन की शांति छीनने वाली है।

4 नमकीन पदार्थों में चींटीयां पड़ जाएं, तो समझ लें कि व्यवसाय या नौकरी में दिक्कत आने वाली है।

5 कुत्ता घर की तरफ मुंह करके रोने लगे, तो समझ लें कि दुर्घटना होने के संकेत हैं।

6 तेल अगर फर्श पर पानी की तरह बह जाए, तो समझ लें कि लाभ के रास्ते रुक जाएंगे।

7 सोने के आभूषण गायब या चोरी हो जाए, तो धन हानी की ओर इशारा है।

8 तुलसी का पौधा जल जाए या सूख जाए, तो ये संकेत हैं कि कुछ अशुभ होगा।


ये भी पढ़ें : https://www.indiamoods.com/5-minute-makeup-tips-tricks/

9 दूध बार-बार उफान करके बहे तो समझ लें कि कोई बीमार पड़ने वाला है।

10 शादीशुदा बहन, बेटी, बुआ, साली, मौसी अगर बिन बुलाए ठहरने आ जाए तो समझ लें कि दुर्भाग्य दस्तक दे रहा है।

11 सरकारी कागजात जैसे बिल्स, रजिस्ट्री में दीमक लग जाए अथवा गुम हो तो सरकार द्वारा दंडित होने के संकेत हैं।

12 कपड़ों का जलना अथवा फट जाना सामाजिक बदनामी की ओर संकेत देता है।

13 कांच के बर्तनों में दरार आना हाॅस्पिटल के बिल बढ़ने के संकेत देता है।