अभिनंदन की रिहाई के लिये पाकिस्तान में ‘ नो टू वॉर कैंपन’

pakistan man demanding peace

पाकिस्तान में भी भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन की रिहाई के लिये ‘ नो टू वॉर कैंपन’ चलाकर लोग उतर आए और उनकी सकुशल रिहाई की मांग की। गुरुवार को लाहौर प्रेस क्लब के बाहर विंग कमांडर के समर्थन में उतरे सैकड़ों लोगों का रेला देखा गया। सभी लोग एक सुर में यही मांग कर रहे थे कि भारतीय पायलट को बाइज्जत पाकिस्तान रिहा करे।

no to war 1

जहां लाहौर में एक तरफ लोगों ने पायलट की रिहाई की मांग उठाई तो दूसरी ओर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने संसद की संयुक्त बैठक में ‘शांति का संकेत’ देते हुए घोषणा की कि पकड़े गए भारतीय वायुसेना के पायलट को शुक्रवार को रिहा कर दिया जाएगा।

अमेरिका के पास भारत-पाक के बीच तनाव घटाने से जुड़ी कुछ अच्छी खबरें है : ट्रंप

no to war 2

पीओके क्षेत्र में हवाई लड़ाई के दौरान बुधवार को फाइटर जेट गिरने के बाद भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर को पाकिस्तान ने बंदी बना लिया। खबर फैलते ही भारत ने त्वरित कार्रवाई करते हुए पायलट की सकुशल रिहाई के लिए पाकिस्तान उच्चायुक्त को दिल्ली में तलब किया और पूर्व में हुए पुलवामा हमले का डॉजियर सौंपा।

पाकिस्तानी अखबार डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक, पायलट ने पैराशूट से उतरने के बाद कथित रूप से कुछ नारे लगाए और पूछा कि भारत में यह कौन सी जगह है, जिसकी पहचान बाद में विंग कमांडर के रूप में हुई. वहां मौजूद युवाओं ने ‘बड़ी चतुराई के साथ उसके नारों को दोहराया’ और उसकी भ्रम की स्थिति बरकरार रखी।

no to war 3

डॉन के अनुसार, लंबे समय तक पीछा करने के बाद भारतीय पायलट ने आत्मसमर्पण कर दिया। अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक भारतीय पायलट ने यह कहते हुए खुद को उनके हवाले कर दिया कि उनकी हत्या न की जाए। लड़कों ने उन्हें पकड़ लिया और कुछ ने उनके साथ हाथापाई की, जबकि कुछ अन्य हमलावरों को रोक रहे थे।

भारत और पाकिस्तान के बीच बढ़े तनाव को देखते हुए बुधवार को कुछ ट्वीट में पाकिस्तान की हिरासत में कैद भारतीय वायुसेना के पायलट को वापस लाने की अपील की गई। ट्रेंड करने वाले टॉप पांच हैशटैग में से एक ‘से नो टू वॉर’ भी रहा।

no to war 4

Pakistani PM says Indian pilot to be released Friday as peace gesture

सोशल मीडिया पर ‘से नो टू वॉर’ में हाथों में भारतीय और पाकिस्तानी झंडा लिए एक दूसरे से गले मिलते हुए दो बच्चों की तस्वीर के शीर्षक में लिखा दिखा, ‘युद्ध में कोई गौरव नहीं’। पीओके स्थित बालाकोट में मंगलवार को जैश के आतंकी कैंप पर हमले के बाद भारत और पाकिस्तान में तनाव बढ़ गया है।

no to war 5

पायलट के पकड़े जाने की जैसे ही खबर सामने आई, ब्रिंग बैक अभिनंदन ने ट्विटर पर ट्रेंड करना शुरू कर दिया। दोनों देशों के लोगों ने विंग कमांडर से गरिमा के साथ व्यवहार करने और जिस देश से वह ताल्लुक रखते हैं, वहां भेजने को कहा।

टि्वटर पर एक यूजर ने लिखा, एक पाकिस्तानी नागरिक के रूप में मैं सरकार से ‘बंदी’ भारतीय पायलट के साथ अच्छा व्यवहार करने और शांति के पैगाम के रूप में उन्हें जल्द से जल्द वापस भेजने का अनुरोध करता हूं. पाकिस्तान ऐसा कर सकता है। ‘से नो टू वॉर’ इस संदेश को दो हजार से ज्यादा बार रीट्वीट किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here