Pakistani drone infiltrated into India four times-करीब 45 मिनट तक भारत सीमा में रहा ड्रोन

Pakistani drone infiltrated into India
Pakistani drone infiltrated into India

Pakistani drone infiltrated into India-भारत-पाक अंतराष्ट्रीय सीमा पर स्थित कस्बा दोरांगला में बीएसएफ की पोस्ट आदियां में शुक्रवार देर रात पाकिस्तानी ड्रोन की मूवमेंट दर्ज की गई। बीएसएफ के जवानों की ओर से चारों बार फायरिंग कर ड्रोन को वापस भगा दिया गया। बीएसएफ तथा पुलिस के जवानों की ओर से इलाके में चैकिंग अभियान भी छेड़ा गया, परन्तु किसी भी प्रकार की कोई रिकवरी नहीं हुई। हालाकि इस संबंध में बीएसएफ के आईजी तथा गुरदासपुर के एसएसपी ने खुद जाकर मौके का जायजा लिया तथा बार्डर पर स्थित लोगों से बातचीत की।

जानकारी के मुताबिक बीएसएफ 58 बटालियन के जवानों ने पहली बार करीब 11.40 मिनट पर पाकिस्तानी ड्रोन की आवाज सुनी और करीब 37 राउंड फायर भी किए तथा करीब 11 मिनट रुकने के बाद 11.51 मिनट पर ड्रोन पाकिस्तान वापिस चला गया। इस तरह सुबह 3 बजे तक कुल मिला कर चार बार ड्रोन भारतीय सरहद में आया। चारों बार कुल मिला कर ड्रोन करीब 45 मिनट तक भारतीय सीमा में रहा। बीएसएफ के जवानों की ओर से कुल 166 राउंड फायर कर पाकिस्तानी ड्रोन को भगाया गया।

Pakistani drone infiltrated into India-नहीं हुयी कोई रिकवरी

बीएसएफ तथा गुरदासपुर पुलिस की ओर से इलाके में सर्च अभियान छेड़ा गया। बीएसएफ पंजाब फ्रंटियर के आईजी आसिफ जलाल तथा गुरदासपुर के एसएसपी हरजीत सिंह ने भी मौके का जायजा लिया। एसएसपी गुरदासपुर हरजीत सिंह ने बताया कि बॉर्डर के इलाकों में पुलिस का पहरा सख्त कर दिया गया है। पुलिस ने बीएसएफ के साथ मिल कर सरहदी इलाके के लोगों के साथ मीटिंग कर सहयोग की भी अपील की गई है। ड्रोन संबंधी तस्करी की सूचना देने वालों को एक लाख के ईनाम की घोषणा की गई है।

46 मिनट ड्रोन का रहना खतरे की घंटी

पाकिस्तानी ड्रोन का भारतीय सीमा में 46 मिनट रहना बड़े खतरे की घंटी है। इतने समय के दौरान हथियार या नशीले पदार्थों की सप्लाई, इलाके की रेकी भी की जा सकती है। जिसके जरिए आराम से घुसपैठ करवाई जा सके।

गौर रहे कि पंजाब में ड्रोन के जरिए हथियारों की सप्लाई होती रही है। इसी तरह गुरदासपुर सेक्टर से ही पाकिस्तानी आंतकियों ने घुसपैठ कर दीनानगर तथा पठानकोट हमले को अंजाम दिया था।