All Party Meet में शामिल होंगे PAGD नेता, विशेष दर्जे समेत कई अहम मसलों पर केंद्र करेगा चर्चा

PGAD ALL PARTY

All Party Meet में गुपकर गठबंधन (PAGD ) शामिल हो रहा है। श्रीनगर में गुपकर संगठन के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा नयी दिल्ली में गुरूवार को बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में गठबंधन शामिल होगा। अब्दुल्ला के गुपकर रोड स्थित आवास पर श्रीनगर में केंद्र के निमंत्रण को लेकर चर्चा करने के लिए बुलाई गई पीएजीडी नेताओं की बैठक के बाद यह घोषणा की गई। गठबंधन के अन्य नेताओं के साथ मौजूद अब्दुल्ला ने बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘हमें प्रधानमंत्री का निमंत्रण मिला है और हम (बैठक में) शामिल होंगे।’

केंद्र ने All Party Meet के लिये 14 नेताओं को बुलाया

PGAD 2

केंद्र शासित प्रदेश के लिए भविष्य में उठाए जाने वाले कदमों पर चर्चा के मकसद से प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता में होने वाली बैठक में जम्मू-कश्मीर के 14 नेताओं को आमंत्रित किया गया है। केंद्र ने जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को निरस्त करने और इसे दो केंद्रशासित प्रदेशों में विभाजित करने की अगस्त 2019 में घोषणा की थी, जिसके बाद से पहली बार इस प्रकार की कोई बैठक हो रही है। पीएजीडी अध्यक्ष ने कहा कि गठबंधन को विश्वास है कि वह बैठक के दौरान प्रधानमंत्री और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के सामने अपना पक्ष रखने में सक्षम होगा।

यह भी पढ़ें: All Party Meet-पीएजीडी की बैठक कल, PDP ने महबूबा मुफ्ती को दिया फैसले का अधिकार

अपने रुख पर कायम हैं- अब्दुल्ला

यह पूछे जाने पर कि गठबंधन का क्या रुख होगा, अब्दुल्ला ने कहा, ‘आप सभी हमारे रुख के बारे में जानते हैं और इसे दोहराने की जरूरत नहीं है। हमारा पहले जो रुख था, वह अब भी है और आगे भी वही रहेगा।’

All Party Meet के लिये केंद्र ने नहीं बताया वार्ता का एजेंडा

PGAD

बैठक के एजेंडे के बारे में पूछे जाने पर अब्दुल्ला ने कहा, केंद्र की तरफ से कोई एजेंडा नहीं बताया गया है। उन्होंने कहा, ‘हम वहां किसी भी मुद्दे पर बात कर सकते हैं।’ पीएजीडी प्रवक्ता और माकपा नेता तारिगामी ने भी पत्रकारों से बातचीत के दौरान प्रधानमंत्री के साथ बैठक में पूर्व वर्ती जम्मू-कश्मीर राज्य का विशेष दर्जा बहाल करने की मांग करने का संकेत दिया।

यह भी पढ़ें: DDC Election-20 में से 6 जिलों में PGAD को, 5 में ‍BJP को बहुमत, अनुराग बोले-मिलकर भी नहीं दे पाये टक्कर

राज्य का विशेष दर्जा बहाल किये बिना शांति संभव नहीं : महबूबा

गठबंधन की उपाध्यक्ष और पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने अपनी पार्टी के रुख को दोहराया और कहा कि वह जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा बहाल किए जाने और उसे फिर से राज्य बनाए जाने के लिए दबाव डालेंगी। महबूबा मुफ्ती ने कहा कि पूर्ववर्ती जम्मू कश्मीर राज्य का विशेष दर्जा रद्द करने के ‘अवैध’ और ‘असंवैधानिक’ कदम को वापस लिए बगैर क्षेत्र में शांति बहाल नहीं हो सकती। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र को कश्मीर मुद्दे का हल करने के लिए पाकिस्तान सहित हर किसी से बात करनी चाहिए।

उन्होंने कहा, ‘वे (भारत) दोहा में तालिबान के साथ वार्ता कर रहे हैं। उन्हें समाधान (Kashmir issue) के लिए जम्मू कश्मीर में सभी के साथ और पाकिस्तान के साथ वार्ता करनी चाहिए।’