ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा #NoBraDay, जानें क्या है खास….

nbd 2
nbd 2

ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा है #NOBRADAY. मकसद है महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर के प्रति अवेयरनेस फैलाना. अक्टूबर महीने को दुनिया भर में कैंसर अवेयरनेस मंथ ( Cancer awareness month ) के तौर पर मनाया जाता है। महिलाओं को ब्रेस्ट कैंसर के प्रति जागरूक करने के मकसद से कई सेमिनार, वर्कशॉप और प्रोग्राम चलाये जाते हैं।

ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा है नो ब्रा डे

इसी के तहत आज यानी रविवार को ट्विटर पर एक मुहिम चल रही है #NOBRADAY. मुहिम में शामिल महिलाएं बिना ब्रा के कपड़े पहनकर इसमें हिस्सा लेकर अपनी तस्वीरें पोस्ट कर रही हैं। #NOBRADAY की यह मुहिम खूब सुर्खियां भी बटोर रही है. https://www.indiamoods.com/healed-how-cancer-gave-me-a-new-life-manisha-koirala-book-on-her-cancer-journey/

कुछ मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो एक दशक पहले तक भारत में ब्रेस्ट कैंसर को लेकर जागरूकता बहुत कम थी। इस मामले में भारत दुनिया में सबसे ज्यादता मरीजों के साथ पहले नंबर पर था।

आंकड़ों की मानें तो देश में हर साल एक लाख ( ONE LAKH) से ज्यादा मामले स्तन कैंसर के सामने आते हैं। इसमें शहरी इलाकों की महिलाएं ज्यादा हैं।https://www.indiamoods.com/irfaan-khan-wins-fight-from-cancer-returns-to-india/

ट्विटर पर ट्रेंड कर रही इस मुहिम के पीछे का मकसद

दूसरी तरफ अगर ग्रामीण इलाकों की बात करें तो उनमें ओवरियन कैंसर ज्यादा होता है।

आंकड़े कहते हैं कि ग्रामीण इलाकों में 60 महिलाओं में से एक में स्तन कैंसर की आशंका होती है तो शहरी इलाकों में हर 30 महिला में से एक को ब्रेस्ट कैंसर का खतरा है।

ब्रेस्ट कैंसर में पहली और दूसरी स्टेज में इलाज आसानी से हो जाता है, जबकि तीसरी और चौथी स्टेज के बाद उपचार के 50 फीसदी मामले ही सफल हो पाते हैं.

भारत में अवेयरनेस के कारण पहली और दूसरी स्टेज में बहुत कम प्रभावित महिलाओं को इलाज की सुविधा मिल पाती है.

जबकि पश्चिमी देशों में 75 फीसदी मामलों में पहली ही स्टेज पर ब्रेस्ट कैंसर डिटेक्ट हो जाता है, और उसका निदान भी.