Monsoon In Hills-किन्नौर में भूस्खलन से NH-5 मालिंग नाला बंद, कुल्लू में बारिश का कहर

maling kinnaur
maling kinnaur

Monsoon In Hills-हिमाचल प्रदेश में मॉनसून अपने चरम पर है। हर दिन भारी बारिश से दुश्वारियां कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। राज्य में विभिन्न स्थानों पर हो रही मॉनसून की भारी वर्षा के चलते सामान्य जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है । सबसे ज़्यादा नुकसान हुआ है सड़क टूटने और बागवानों को तैयार फसल मार्केट तक पहुंचाने में। बारिश का रौद्र रूप देखकर इसमें आने वाले दिनों में भी कोई राहत की उम्मीद नहीं है।

मालिंग नाला उफान पर

maling
maling

जनजातीय जिला किन्नौर में मालिंग के पास हुए भारी भूस्खलन के चलते राष्ट्रीय राजमार्ग-5 अवरुद्ध हो गया है। इस सड़क के बंद हो जाने के चलते काजा और स्पिति घाटी का शेष दुनिया से संपर्क कट गया है। सड़क के अवरुद्ध हो जाने से बड़ी संख्या में देशी व विदेशी पर्यटक सड़क के दोनों ओर फंसे हुए हैं। सड़क को खोलने के प्रयास जारी हैं। हालांकि लगातार भूस्खलन के कारण इस कार्य में बाधा आ रही है।

यह भी पढ़ें: Organic Farming in Hills -हिमाचल के एक गांव में शुरू हुआ ऑर्गेनिक खेती का स्टार्टअप

Monsoon In Hills-आनी के बुछैर में भारी नुकसान

उधर, कुल्लू जिला के आनी के बुछैर में आज हुई भारी वर्षा से व्यापक नुकसान हुआ है। भारी वर्षा से स्थानीय नाले में आई बाढ़ में बह जाने से दो वाहन क्षतिग्रस्त हो गए तथा कई घरों व बगीचों को भी भारी नुकसान पहुंचा है। फ्लैश फ्लड के कारण कई सड़कें और पेयजल योजनाएं भी क्षतिग्रस्त हो गई हैं। इस घटना में लोगों ने सुरक्षित जगह भागकर जान बचाई।

Monsoon In Hills-येलो अलर्ट जारी

मौसम विभाग ने राज्य में मॉनसन संबंधी गतिविधियों के फिर से जोर पकड़ने का पूर्वानुमान जारी किया है। विभाग ने कल के लिए राज्य के कुछ स्थानों पर भारी वर्षा का येलो अलर्ट जारी किया है। विभाग ने 26 से 28 जुलाई तक राज्य के किन्नौर और लाहौल स्पिति को छोड़कर शेष 10 जिलों में भारी से बहुत भारी वर्षा का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।