MistakeS in job searching- ये टिप्स फ्लो करेंगे तो नहीं होगी मुश्किल

MistakeS in job searching
MistakeS in job searching

MistakeS in job searching-पढ़ाई-लिखाई पूरी हो जाने के बाद, कॉलेज और इंस्टीट्यूट की मस्तियों से भी जब मन भर जाता है तब एक बढ़िया पैकेज वाला, मनमाफिक जिम्मेदारियों वाला जॉब हर यूथ की चाहत होती है। ताकि हाथ में दो पैसे हों और वे अपने सपनों को साकार कर सकें। जॉब सर्चिंग की प्रक्रिया में कुछ खामियां रह जाएं, तो ड्रीम जॉब का मिलना काफी मुश्किल हो जाता है। इन खामियों को जान लीजिए ताकि आप इनसे दूर रह सकें –

कंसलटैंट के भरोसे बैठे रहना

कई बार युवा अपना resume consultant agency को देकर निश्चिंत हो जाते हैं और मजे से घर में बैठकर इंतजार करते हैं कि उनके लिए नौकरी का बुलावा बस आता ही होगा। लेकिन यह उनकी बड़ी भूल साबित होती है। ध्यान रहे, कंसलटैंट को आपकी नहीं, अपने क्लाइंट की चिंता ज्यादा होती है, जो उसे हायर करता है। उनके पास आप जैसे सैकड़ों लोगों के रेज्यूमे होते हैं। उनके लिए आपका रेज्यूमे उनके डाटा बैंट को समृद्ध करने का एक स्रोत मात्र है। आपकी प्रोफाइल से पूरी तरह मैच करने वाला जॉब मिलना मुश्किल काम है, अगर कोई ऐसा जॉब आता भी है तो कंसलटैंट के पास आप जैसे कई लोगों के सीवी होते हैं, साथ ही जॉब पोर्टल पर भी ऐसे कई सीवी होते हैं, जिससे आपको नौकरी मिलने का चांस कम हो जाता है। इसलिए जरूरी है कि कंसलटैंट को रेज्यूमे देने के साथ-साथ आप संभावित एम्प्लॉयर्स के साथ मिलने की कोशिश जारी रखें।

MistakeS in job searching-होमवर्क में लापरवाही

jobs from home
joMistakeS in job searching

किसी भी जॉब के लिए इंटरव्यू देने जाएं तो कंपनी औऱ वहां जिस पद के लिए आवेदन कर रहे हैं उसके बारे में पहले से पूरी रिसर्च करें। कंपनी का कार्य क्षेत्र क्या है, किस चीज का व्यवसाय है। आवेदित पद के लिए क्या अपेक्षाएं हैं आदि जानना जरूरी है। इन तैयारियों के बिना इंटरव्यू के लिए जाना सिवाय बेवकूफी के और कुछ नहीं कहलाएगा। संभव हो तो कंपनी में नियुक्ति के लिए जिम्मेदार सीनियर अधिकारी के बारे में भी जानकारी जुटाएं। इंटरव्यू के दौरान अधिकारी की किसी उपलब्धि को गिनाएंगे तो वे यह जानकर वाकई खुश होंगे कि आपको कंपनी के विषय में गहरी जानकारी और दिलचस्पी है। आप कैसी ड्यूटी वाली नौकरी चाहते हैं, कितने घंटे काम करना चाहते हैं, ट्रेवलिंग में दिलचस्पी है या नहीं, जहां नौकरी ढूंढ रहे हैं वहां जॉब सिक्योरिटी कितनी है आदि बातों पर अपना विचार पक्का कर लें।

अंधाधुंध मेल करना

कुछ युवा अपने सामने आयी हर ईमेल आईडी पर अंधाधुंध सीवी और एप्लीकेशन मेल कर देते हैं, लेकिन इससे फायदा होने का कम और नुकसान होने का ज्यादा चांस होता है। जब आपको लगता है कि आपने पचासों जगह एप्लाई कर दिया लेकिन कहीं से जवाब नहीं आ रहा, तो मन में निराशा, हताशा के भाव उत्पन्न होते हैं। आपका काफी समय, पैसा और ऊर्जा भी बर्बाद होती है जबकि सच्चाई तो यह है कि आपका तीर निशाने पर लगता ही नहीं है। जॉब देने वाले बड़े पदाधिकारियों के पास हर दिन बड़ी संख्या में ई-मेल आती हैं जिन्हें वे खोलकर देखते तक नहीं। बेहतर यह होगा कि चुनिंदा लोगों/कंपनियों को रेज्यूमे मेल करें और संबंधित अधिकारी से संवाद स्थापित करने की कोशिश करें। उनकी जरूरतों को समझें और अपनी योग्यता के बारे में उन्हें संक्षिप्त जानकारी दें। इससे आपका नाम उनकी नजर में रहेगा।

Also Read-https://www.indiamoods.com/job-opportunities-in-icmr-apply-today-for-consultant-and-other-posts/

MistakeS in job searching-महत्वपूर्ण तथ्यों को हाईलाइट न कर पाना

कई बार संभावित एम्प्लॉयर को भेजे गए रेज्यूमे या आवेदन पत्र में प्रार्थी अपनी उपलब्धियों और महत्वपूर्ण तथ्यों को सही ढंग से उभारकर प्रस्तुत नहीं कर पाते इसलिए व्यस्त और काम के बोझ से दबे अधिकारी उनके आवेदन पर ज्यादा गौर नहीं कर पाते। अगर आपने पहले कहीं काम किया है या एकेडमिक उपलब्धि हासिल की है, तो उसे हाईलाइट करें। जैसे आपने पिछले जॉब में, सेल्स एग्जिक्यूटिव के तौर पर कोई उपलब्धि हासिल की तो उसे, ‘कम भागीदारी वाली मार्केट से बड़ा बिजनेस हासिल किया’ न लिखकर ऐसे लिखें, ‘कंपनी द्वारा दिए गए टार्गेट से भी ज्यादा यानी 122 फीसदी सेल्स टार्गेट हासिल किया, वह भी अमुक मार्केट से जहां कम्पनी का मार्केट शेयर पहले मात्र 14 फीसदी था। मुझे यह मार्केट शेयर बढ़ाकर 20 फीसदी करने का जिम्मा दिया गया लेकिन मैंने इसे 24 फीसदी करने में सफलता पाई।’ मौजूदा कम्पनी के लिए आप क्या कर सकते हैं, इसका भी जिक्र करें।

अहंकारपूर्ण न हो व्यवहार

अधिकारियों के साथ बातचीत करते समय आपको कॉन्फिडेंट तो होना चाहिए लेकिन अहंकारी नहीं। विनम्रता और आदरपूर्वक बात करें। कहीं कोई चूक हो जाए तो उस पर अड़कर सही साबित करने की कोशिश न करें, तुरंत क्षमा मांगते हुए गलती सुधार लें।