पर्रिकर की हालत में सुधार नहीं, बदल सकता है गोवा का सीएम

manohar parikar goa cm

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर की हालत में सुधार नहीं है, वह काफी समय से बीमार हैं। बावजूद इसके वे इस हालत में भी काम कर रहे हैं. उनकी बीमारी को लेकर तमाम तरह की अटकलेबाजियां लगाई जाती रही हैं, लेकिन अभी तक साफ तौर पर कुछ भी सामने नहीं आ पाया. पिछले हफ्ते गोवा के कैबिनेट मंत्री विजय सरदेसाई ने पहली बार मीडिया को बताया कि मुख्यमंत्री पर्रिकर का कैंसर एडवांस स्टेज में है, इसके बावजूद वह राज्य की जनता के लिए काम कर रहे हैं. इस बीच गोवा में सीएम बदलने की चर्चा शुरू हो गई है। बीजेपी के सीनियर नेता और डिप्टी स्पीकर माइकल लोबो ने यह कहा है।

cm manohar parikar

 कोई और बन सकता है सीएम

गोवा में सीएम बदलने के मुद्दे पर पार्टी के सीनियर नेता और डिप्टी स्पीकर माइकल लोबो ने माना कि पार्टी में पर्रिकर की जगह किसी और को सीएम बनाने की चर्चा हुई है.  इसका फैसला आज यानि रविवार को पार्टी नेताओं और विधायकों की होने वाली बैठक में लिया जाएगा.

माइकल लोबो ने कहा कि सीएम मनोहर पर्रिकर की तबीयत को लेकर पार्टी के नेता और विधायक फ्रिकमंद है. आज पार्टी के वरिष्ठ नेता भी आ रहे हैं. ऐसे में सभी बैठकर इस पर फैसला लेंगे. इस बैठक में गोवा फार्वड पार्टी और महाराष्ट्रवादी गोमंटक पार्टी के साथ गठबंधन पर भी चर्चा होगी. माना जा रहा है कि पार्टी के किसी नेता को मुख्यमंत्री बनाया जा सकता है.

यह भी पढ़ें: लोकसभा चुनाव में चौकीदार बड़ा मुद्दा, पीएम ने बदला ट्विटर हैंडल

बीजेपी का ही होगा सीएम

उन्होंने कहा कि किसे सीएम बनाना है, इसका फैसला पार्टी लेगी. हम अपने गठबंधन के सहयोगियों से बात कर रहे हैं. बता दें, लंबे वक्त से बीमार चल रहे गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर की हालत ठीक नहीं है. इससे पहले माइकल लोबो ने कहा था कि हम उनके जल्द ठीक होने की प्रार्थना कर रहे हैं, लेकिन उनके ठीक होने की उम्मीद नहीं है. उनकी तबीयत बहुत ज्यादा खराब है. अगर उनको कुछ भी होता है तो गोवा का अगला मुख्यमंत्री भी बीजेपी का ही होगा.

पर्रिकर की सेहत में सुधार नहीं

manohar parikar goa cm

मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर अग्नाश्य संबंधी बीमारी के कारण लंबे समय से बीमार चल रहे हैं. उनका गोवा, मुंबई और अमेरिका सहित कई जगहों के अस्पतालों में इलाज हो चुका है, लेकिन उनकी सेहत में सुधार नहीं है. बीते दिनों में उनकी तबीयत ज्यादा खराब हो गई है. इस बीच गोवा में उनकी सरकार पर भी संकट बना हुआ, क्योंकि शनिवार को कांग्रेस ने राज्यपाल मृदुला सिन्हा के सामने सरकार बनाने का दावा पेश किया.

संकट में है सरकार

40 सदस्यीय गोवा विधानसभा में कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी है और उसके पास 14 विधायक हैं. जबकि बीजेपी के पास 13 विधायक हैं, जिसे महाराष्ट्रवादी गोमंतक पार्टी के 3, गोवा फार्वड पार्टी के 3 और 3 निर्दलीय विधायकों का समर्थन हासिल है. कांग्रेस का आरोप है कि बीजेपी सरकार अपना बहुमत खो चुकी है.