Lookout circular issued against Majithia- विदेश जाने पर रोक, सरेंडर नहीं किया तो बढ़ेंगी मुश्किलें

majithia bikram

Lookout circular issued against Majithia-पंजाब पुलिस ने आज पूर्व अकाली मंत्री और ड्रग्स स्मगलिंग मामले में आरोपी बिक्रमजीत सिंह मजीठिया का लुक आउट सर्कुलर जारी किया है। उनके एक नजदीकी सूत्र ने बताया कि फिलहाल उनका सरेंडर करने का कोई इरादा नहीं है। उसूत्र का कहना है कि वे सरेंडर क्यों करेंगे? शिरोमणि अकाली दल उनका केस लड़ेगी और न्याय मांगेगी। उनका कहना था कि जल्द ही वे जमानत के लिये अर्जी लगायेंगे और एकदम पाक साफ होकर निकलेंगे। पंजाब पुलिस ने आज केंद्रीय गृह मंत्री से मजीठिया के खिलाफ लुक आउट सर्कुलर निकालने का आग्रह किया, जिन पर नशे की तस्करी में संलिप्त होने का एक मामला 20 दिसंबर को दर्ज किया गया है।

Lookout circular issued against Majithia

ड्रग्स मामले में एफआईआर दर्ज होने के बाद शिरोमणि अकाली दल के नेता और पूर्व मंत्री बिक्रम मजीठिया (Bikram Majithia) की मुश्किलें और बढ़ गई हैं. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने बिक्रम मजीठिया के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर जारी कर दिया है.
पंजाब पुलिस ने केंद्रीय गृह मंत्रालय को बिक्रम सिंह मजीठिया के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी करने के लिए कहा था. लुकआउट सर्कुलर जारी होने के बाद बिक्रम मजीठिया के विदेश जाने पर रोक लग गई है. पंजाब पुलिस की ओर से बुधवार को केंद्रीय गृह मंत्रालय को एक लेटर लिखा गया था. इस लेटर में बिक्रम मजीठिया के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी करने के लिए कहा गया था. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने तुरंत एक्शन लेते हुए बिक्रम मजीठिया के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर जारी कर दिया.

majithia
majithia

बिक्रम मजीठिया के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत 2018 की एसटीएफ रिपोर्ट के आधार पर एफआईआर दर्ज की गई है. एसटीएफ रिपोर्ट को हरप्रीत सिंह सिंधु ने 2018 में पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट में जमा किया था.

आरोपों को खारिज करते रहे हैं बिक्रम मजीठिया

बिक्रम सिंह मजीठिया शिरोमणि अकाली दल के मुखिया सुखबीर सिंह बादल के साले और पूर्व केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर के भाई है. बिक्रम सिंह मजीठिया अपने ऊपर लगे हुए आरोपों को खारिज करते रहे हैं. एफआईआर दर्ज होने के बाद से बिक्रम मजीठिया की कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है.
शिरोमणि अकाली दल की ओर से हालांकि लगातार बिक्रम सिंह मजीठिया का बचाव किया जा रहा है. सुखबीर सिंह बादल ने कहा है कि बदले की भावना के तहत बिक्रम सिंह मजीठिया को ड्रग्स केस में फंसाने की कोशिश की जा रही है. शिरोमणि अकाली दल ने इस मामले को अदालत में ले जाने का दावा किया.

यह भी पढ़ें: Bikram Majithia booked in drugs case- किसी भी समय हो सकती है पूर्व मंत्री की गिरफ्तारी, जानें क्या है पूरा मामला

बचाव में उतरे सुखबीर सिंह बादल, झूठे मामले में फंसाने का लगाया आरोप

ड्रग्स मामले में शिरोमणि अकाली दल के नेता बिक्रम मजीठिया पर एफआईआर दर्ज होने के बाद पंजाब की सियासत गरम हो गई है. शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह (Sukhbir Singh Badal) बादल ने अपनी पार्टी के नेता और पूर्व मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया का बचाव किया है.
सुखबीर सिंह बादल ने आरोप लगाया है कि बिक्रम मजीठिया को झूठे मामले में फंसाने की कोशिश हो रही है.
बादल ने कहा कि जो लोग अपने पद का दुरुपयोग कर कानून के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं, उन्हें कानूनी नतीजे भुगतने के लिए तैयार रहना चाहिए. उन्होंने कहा कि शिअद, मजीठिया के विरुद्ध गलत मामला दर्ज करने की चुनौती को स्वीकार करती है.
मजीठिया सुखबीर सिंह बादल के रिश्तेदार हैं और पंजाब में मादक पदार्थ रोधी कार्यबल के अध्यक्ष हरप्रीत सिंह सिद्धू की स्थिति रिपोर्ट के आधार पर बिक्रम मजीठिया के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. यह मामला 2018 में अदालत में दर्ज किया गया था.