23 मई की जगह 28 मई को आ सकते हैं लोकसभा चुनाव के नतीजे

indian-election-commision

23 मई की जगह 28 मई को आ सकते हैं लोकसभा चुनाव के नतीजे । अब तक की खबरों के मुताबिक लोकसभा चुनाव 2019 के नतीजे 23 मई को आने हैं लेकिन अब लगता है कि इसमें देर हो सकती हैं। तो क्या लोकसभा चुनाव 2019 के परिणाम 23 मई की जगह 28 मई को आएंगे ? यह सवाल इसलिए उठ रहे हैं क्योंकि चुनाव आयोग ने सुप्रीम कोर्ट से कहा है 50 फीसदी ईवीएम के वीवीपैट पर्चियों का मिलान करने पर चुनाव के परिणाम में पांच-छह दिनों की देरी हो सकती है।

election commission
बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने 21 राजनीतिक दलों की इस मांग पर सुनवाई की और चुनाव आयोग से इस पर 25 मार्च को जवाब मांगा था। चुनाव आयोग ने अपने जवाब में कहा कि वीवीपैट की पर्चियों के मिलान का वर्तमान तरीका सबसे सटीक है। प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में 50 फीसदी ईवीएम के वोटों की गणना वीवीपैट पर्चियों से करने में चुनाव के परिणाम आने में पांच दिन या उससे अधिक की देरी हो सकती है।

चुनाव आयोग का तर्क

Election-Commission-of-India

आयोग ने कहा कि कई विधानसभा ऐसे है जहां 400 पोलिंग बूथ है। जिनके वीवीपैट पर्ची से मिलान करने में आठ से नौ दिनों का समय लग सकता है। आगे आयोग ने इसकी व्यवहारिकता पर भी सवाल उठाया और कहा कि इसके लिए न सिर्फ बड़ी तादाद में सक्षम स्टाफ की आवश्‍यकता होगी, बल्कि बहुत बड़े काउंटिंग हॉल की भी जरूरम पड़ेगी। ऐसी सुविधा की पहले से ही कुछ राज्यों में कमी है।

चुनाव आयोग ने कोर्ट के समक्ष अपनी बात रखते हुए कहा कि वर्तमान में ऑटोमैटिक रूप से पर्चियों के मिलान का तरीका उपल्ब्ध नहीं है। फिलहाल कोई मकेनिकल सिस्टम नहीं है क्योंकि वीवीपैट से निकल रही स्लिप पर कोई बारकोड नहीं लगा होता है।