डोपिंग में फंसी लंबी दूरी की रनर किरणजीत कौर, 4 साल की पाबंदी लगी

kiranjeet kaur

डोपिंग में फंसी Long distance runner किरणजीत कौर और अब उन पर लग गया है 4 साल का प्रतिबंध। पिछले साल भारतीयों में टाटा स्टील कोलकाता 25के जीतने वाली लंबी दूरी की धाविका किरणजीत कौर पर विश्व एथलेटिक्स डोपिंग निरोधक एजेंसी ने प्रतिबंधित पदार्थ के सेवन के आरोप में चार साल का प्रतिबंध लगा दिया । राष्ट्रीय डोप जांच लेबोरेटरी (
National Dope Investigation Laboratory) पर विश्व डोपिंग निरोधक एजेंसी ने निलंबन लगा रखा है । इसी वजह से कौर के नमूने दोहा में वाडा की अधिकृत लैब में भेजे गए थे ।

छिन जायेगा शीर्ष पुरस्कार

kiranjit

32 वर्ष की कौर से टाटा स्टील कोलकाता 25के का शीर्ष पुरस्कार भी छीन लिया जायेगा । उनके प्रतिबंध की अवधि 15 दिसंबर से शुरू हो गई है जिस दिन उनके नमूने लिये गए थे । विश्व एथलेटिक्स ने 26 फरवरी को उन्हें अस्थायी तौर पर निलंबित कर दिया था ।

यह भी पढ़ें: T20 इंटरनेशनल में वापसी चाहते हैं हरभजन, बोले-अभी बूढ़ा नहीं हुआ

डोपिंग में फंसी Long distance runner सारे पदक छिनेंगे

Doping-File

एथलेटिक्स नैतिकता ईकाई ने कहा ,‘‘ इस दौरान उसकी सभी स्पर्धाओं के नतीजे रद्द माने जायेंगे । उसके खिताब, पुरस्कार, पदक , ईनामी राशि वापिस ले ली जायेगी । ”

मार्च में जीता था 10 हज़ार मीटर का Bronz

kiranjeet-kaur 2

कौर ने पिछले साल मार्च में पटियाला में फेडरेशन कप राष्ट्रीय चैम्पियनशिप में 10000 मीटर का कांस्य पदक जीता था । उसने 2018 में गुवाहाटी में राष्ट्रीय अंतर प्रांत चैम्पियनशिप में भी 5000 मीटर का रजत पदक जीता था । कौर ने कहा था कि उसे टायफाइड हुआ था और उसने गांव में एक डाक्टर की दी दवा ली थी । उसे नहीं पता था कि इसमें क्या है ।

यह भी पढ़ें: खुदकुशी करना चाहते थे Moh शमी, जानें क्यों 3 बार किया था प्रयास