करनाल में इनेलो ने सीएम के खिलाफ नहीं उतारा अपना प्रत्याशी

chautala
  • ओमप्रकाश चौटाला की पसंदीदा सीट महम चौबीसी में निर्दलीय को समर्थन

करनाल में इनेलो ने मुख्यमंत्री के खिलाफ अपना उम्मीदवार नहीं उतारा है। अकाली दल के साथ गठबंधन करने के बाद भी इनेलो ने 4 हलकों में अपने प्रत्याशी नहीं उतारे हैं। करनाल में सीएम मनोहर लाल खट्टर के खिलाफ इनेलो का कोई उम्मीदवार इस बार मैदान में नहीं होगा। हालांकि पार्टी नेताओं की दलील है कि उम्मीदवार तो तय हो गया था लेकिन नामांकन-पत्र जमा कराने में देरी की वजह से उसका फार्म जमा नहीं हो पाया।

करनाल में इनेलो ने उम्मीदवार न खड़ा करने का फैसला लिया है

abhay
abhay

महम चौबीसी के प्रति इनेलो सुप्रीमो और पूर्व सीएम ओमप्रकाश चौटाला का लगाव रहा है। वे खुद भी महम से चुनाव लड़ चुके हैं, लेकिन इस बार इनेलो ने चौटाला की पसंदीदा सीट पर अपना प्रत्याशी नहीं उतारा। अब पार्टी ने यहां से निर्दलीय उम्मीदवार बलराज कुंडू को समर्थन का ऐलान किया है। कुंडू भाजपा से टिकट मांग रहे थे। इसके लिए उन्होंने जिला परिषद के चेयरमैन पद से इस्तीफा दे दिया था। लेकिन भाजपा ने उनकी टिकट काटकर शमेशर सिंह खरकड़ा को दे दी तो कुंडू निर्दलीय मैदान में कूद गए। https://www.indiamoods.com/inlds-case-of-change-of-party-membership-of-5-mlas-canceled/

करनाल में इनेलो ने चुनाव न लड़ने का फैसला किया, सिरसा शहर की सीट पर भी नहीं लड़ेगा

abhaysinghchautala-inld-pti
abhaysinghchautala-inld-pti

अपने गढ़ यानी सिरसा शहर की सीट पर भी इनेलो इस बार चुनाव नहीं लड़ेगा। यहां से भाजपा की टिकट के प्रबलतम दावेदार गोकुल सेतिया को इनेलो ने अपना समर्थन दिया है। सेतिया भी आजाद प्रत्याशी के तौर पर चुनावी रण में कूदे हैं। सिरसा के रानियां हलके से पूर्व सांसद एवं चौ. देवीलाल के पुत्र रणजीत सिंह भी निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर मैदान में आ गए हैं।

इनेलो और अकाली दल के 86 उम्मीदवार मैदान में

akali inld
akali inld

अकाली दल को बंटवारे के तहत 5 सीट – कालांवाली, रतिया, अम्बाला सिटी, पिहोवा और शाहाबाद मिली हैं। इनेलो ने 2 अक्तूबर को जारी की अपनी पहली सूची में 64 हलकों के उम्मीदवार घोषित किए थे। अब पार्टी ने नामांकन-पत्र दाखिल करने के आखिरी दिन दूसरी सूची में 17 उम्मीदवारों की घोषणा की। इन उम्मीदवारों ने भी अपने फार्म जमा करा दिए हैं। इनेलो और अकाली दल के मिलाकर 86 उम्मीदवार मैदान में हैं।https://www.indiamoods.com/inld-to-release-list-of-candidates-on-october-2-brainstorm-in-party/

वैसे अकाली दल ने भी अम्बाला सिटी से अपना उम्मीदवार नहीं उतारा है। इनेलो ने कालका से सतिंद्र टोनी को उम्मीदवार बनाया है। यहां से इनेलो के पूर्व विधायक प्रदीप चौधरी पार्टी छोड़कर कांग्रेस में जा चुके हैं। वे अब कालका से कांग्रेस टिकट पर उम्मीदवार हैं। सढ़ौरा से इनेलो ने सुषमा चौधरी को टिकट दिया है और जगाधरी हलके में बलजीत शर्मा को प्रत्याशी बनाया है। शाहाबाद में संदीप और पिहोवा में शशिपाल जंधेरी इनेलो प्रत्याशी होंगे। 2014 में यहां से इनेलो के जसविंद्र संधू विधायक बने थे।https://www.indiamoods.com/dushyant-chautala-declared-will-contest-the-assembly-elections/