महाराष्ट्र में बैंकिंग, बीमा क्षेत्र को छोड़कर बंद होंगे होटल, रेस्टोरेंट और बार, शूटिंग पर भी रोक

corona
file

महाराष्ट्र में बैंकिंग और बीमा समेत कुछ कार्यालयों को छोड़कर निजी कार्यालय बंद रहेंगे। वीकेंड में लॉकडाउन की घोषणा की गई है। महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने रविवार को कहा कि बैंकिंग और बीमा क्षेत्र के कार्यालयों को छोड़कर निजी कार्यालय सोमवार रात से बंद रहेंगे जब सख्त पाबंदियां लागू होंगी। उन्होंने कहा कि अन्य निजी कार्यालयों के कर्मचारियों को घर से काम करने की अनुमति होगी। मंत्री ने कहा कि सरकारी कार्यालय अपनी क्षमता के 50 प्रतिशत के साथ काम करेंगे और बाकी कर्मचारी घर से काम करेंगे, सिवाय महामारी प्रबंधन से संबंधित आवश्यक सेवाओं के कर्मचारियों को छोड़कर (जिन्हें काम के लिए जाना होगा)।’

शुक्रवार रात 8 बजे से सोमवार सुबह 7 बजे तक लॉकडाउन

राज्य सरकार ने रविवार को कोविड-19 मामलों में भारी बढ़ोतरी पर रोक लगाने के लिए शुक्रवार रात 8 बजे से सोमवार सुबह 7 बजे तक राज्य में सप्ताहांत लॉकडाउन की घोषणा की। सप्ताहांत लॉकडाउन के अलावा, सोमवार रात 8 बजे से सख्त पाबंदियां लागू होंगी, जिसके तहत शॉपिंग मॉल, बार, रेस्तरां, छोटी दुकानें केवल टेक-अवे और पार्सल के लिए खुली रहेंगी। टोपे ने कहा कि राज्य में सैलून और ब्यूटी पार्लर भी बंद रहेंगे। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक परिवहन पाबंदियों के साथ चालू रहेगा और ऑटोरिक्शा और टैक्सी सीमित संख्या में यात्रियों के साथ चलेंगी। टोपे ने कहा कि उल्लंघनकर्ताओं को 500 रुपये का जुर्माना देना होगा।

यह भी पढ़ें: महाराष्ट्र और पंजाब में हर दिन बढ़ रहा कोरोना, मार्च में इन दो राज्यों में हुई है 60% मौतें

मुंबई में एक दिन में 11 हजार से अधिक मामले

मुंबई में रविवार को कोविड-19 के एक दिन में सबसे अधिक 11,163 नये मामले सामने आये जिससे महानगर में संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 4,52,445 हो गई। यह जानकारी बृहन्मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) ने दी। बृहन्मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) ने एक बयान में कहा कि 25 और मरीजों की मौत होने के साथ ही महानगर में मृतक संख्या बढ़कर 11,776 हो गई। अस्पतालों से कुल 5,263 मरीजों को छुट्टी दी गई, जिससे ठीक होने वाले मरीजों की संख्या बढ़कर 3,71,628 हो गई। बीएमसी ने कहा कि रविवार को शहर भर में 43,597 जांच की गई जिससे यहां अभी तक की गई जांच की संख्या बढ़कर 42,49,175 हो गई। बयान में कहा गया है कि मुंबई जिले में कोविड-19 से ठीक होने की दर 82 प्रतिशत है।