Haryana RS Results 2022- कैसे बिगड़ा माकन का गणित और जीत गये कार्तिकेय

Haryana RS Results 2022
Haryana RS Results 2022

Haryana RS Results 2022-हरियाणा में राज्यसभा की दो सीटों पर हुए चुनाव का शनिवार के अहले सुबह परिणाम आया. करीब आठ घंटे देर शुरू हुए गिनती के बाद बीजेपी उम्मीवदार कृष्ण लाल पंवार और बीजेपी समर्थित निर्दलीय प्रत्याशी कार्तिकेय शर्मा वियजी घोषित हुए. जबकि कांग्रेस प्रत्याशी अजय माकन 29 वोट पाकर भी चुनाव हार गए. चुनाव परिणाम की घोषणा के बाद राज्य के मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता मनोहर लाल खट्टर ने ट्वीट कर नवनिर्वाचित राज्यसभा सदस्यों को शुभकामनाएं दीं. उन्होंने लिखा, ” हरियाणा के नवनिर्वाचित राज्यसभा सांसद कृष्ण लाल पंवार और कार्तिकेय शर्मा को मेरी हार्दिक बधाई. उम्मीदवारों की सफलता लोकतंत्र की जीत है. हमारे महान राष्ट्र के विकास में उनकी नई जिम्मेदारियों के लिए मेरी शुभकामनाएं.”

यहां समझें वोटों की गणित

बता दें कि शुक्रवार को हुए मतदान में बीजेपी उम्मीदवार को 31 वोट, निर्दलीय उम्मीदवार को 28 और कांग्रेस उम्मीदवार को 29 वोट मिले. हालांकि, वोटों की गणित कुछ इस तरह बनी कि कार्तिकेय विजयी घोषित हुए. दरअसल, हरियाणा के कुल 90 विधायकों में से, एक निर्दलीय ने मतदान नहीं किया और एक वोट खारिज कर दिया गया, जिससे 88 वोट वैध हो गए. यानी हर उम्मीदवार को जीतने के लिए 29.34 वोट चाहिए थे. चूंकि पंवार को 31 वोट मिले थे, ऐसे में उनका 1.66 वोट बीजेपी समर्थित शर्मा के हिस्से चले गए, क्योंकि कार्तिकेय दूसरी वरीयता के उम्मीदवार थे.

Haryana RS Results 2022-माकन 29 वोट पर बने रहे

Haryana RS Results 2022
Haryana RS Results 2022

ऐसे में कार्तिकेय को 29.66 मत (28 + 1.66) मिले, जिससे उनकी जीत हुई. इधर, माकन 29 वोट पर बने रहे. बता दें कि दोनों दलों द्वारा वोट डालने में विधायकों द्वारा नियमों के उल्लंघन का आरोप लगाने के बाद चुनाव आयोग ने शुक्रवार की देर रात एक बजे आठ घंटे की देरी से वोटों की गिनती शुरू की. वहीं, शनिवार अहले सुबह 3.10 बजे परिणाम की घोषणा की. दरअसल, बीजेपी और निर्दलीय उम्मीदवार ने कांग्रेस विधायकों किरण चौधरी और बीबी बत्रा पर अपने मतपत्र दिखाने का आरोप लगाया था.

इधर, कांग्रेस ने चुनाव आयोग से भी संपर्क किया और बीजेपी पर स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव की प्रक्रिया को विफल करने की कोशिश करने का आरोप लगाया और परिणामों की तत्काल घोषणा की मांग की.