जनरल समाज पार्टी के प्रत्याशी को पर्चा दाखिल करने से रोका, पार्टी का आरोप- लोकतंत्र नहीं गुंडातंत्र है

नामांकन दाखिल करने आए प्रत्याशियों को हुई भारी परेशानी

चुनावी अमले पर भेदभाव के आरोप

जनरल समाज पार्टी के प्रत्याशी सतीश कुमार को चंडीगढ़ के चुनावी अमले की तरफ से पर्चा दाखिल नहीं करने दिया गया। भारी संख्या में आए लोगों को बड़ी पार्टियों के दबाव में डीएसपी स्तर के अधिकारियों ने सेक्टर 17 में दाखिल होते ही रोक दिया। सेक्टर 52 से 11:30 बजे आरंभ हुआ रोड शो लगभग 12:30 बजे सेक्टर 17 में दाखिल हुआ। वहां से चुनाव अधिकारी के ऑफिस तक पहुंचते-पहुंचते एक घंटा लग गया।

सरकारी अमले पर ज़्यादती का आरोप

janaral samaj party candidate satish kumar

पुलिस कर्मचारियों व अधिकारियों की रोक – टोक के चलते पार्टी प्रधान सुरेश गोयल की कई जगह तू – तू मैं – मैं भी हुई। लगभग 80 वर्ष की उम्र होने के बावजूद उनको पुल के पास गाड़ी से उतर कर कड़ी धूप में लंबा रास्ता पैदल ही तय करना पड़ा। सरकारी अमले की ज्यादती का सिलसिला यहीं खत्म हो जाता तो गनीमत थी। लेकिन बड़े मियां भी सचमुच उनके बाप निकले। 1:30 बजे से वेटिंग रूम व पेपर चेकिंग के लिए इधर-उधर घूमाते रहे। चुनाव अधिकारी के कमरे में शरीफ लोगों को घुसने ही नहीं दिया जा रहा था। कई और छोटी पार्टियों व आजाद उम्मीदवारों ने भी चुनावी अमले पर दुर्व्यवहार करने व बिना कारण परेशान करने का आरोप लगाया।

अव्यवस्था का आरोप

नामांकन करने आए लोगों के लिए सुचारु व्यवस्था का आलम यह था कि वहां कोई पानी पिलाने वाला कर्मचारी तक नहीं था। कई प्रत्याशियों को वहां लगे कूलर पर खड़े होकर हाथ से पानी पीते देखा गया। कूलर पर कोई गिलास तक नहीं रखा गया था।