सुरक्षा कारणों से भारत के 8 हवाई अड्डों को बंद करने के आदेश वापस

igi

सुरक्षा कारणों से देश के 8 हवाई अड्डों को 3 महीने तक बंद करने के आदेश वापस ले लिये गये हैंं। भारत और पाकिस्तान के बीच तनावपूर्ण स्थिति में सभी एयरपोर्ट पर उड़ाने बहाल करने के आदेश जारी कर दिए गए हैं। इससे पूर्व दिल्ली से उत्तर की दिशा में पूरा हवाई क्षेत्र खाली कर दिया गया था।  अधिकारियों ने कहा था कि श्रीनगर और जम्मू में नौ हवाई अड्डों को पाकिस्तान के साथ तनाव के बीच नागरिक हवाई यातायात के लिए बुधवार को बंद कर दिया गया था। हालांकि कई एयरपोर्ट अब भी हाई अलर्ट पर हैं।

igi
अधिकारी ने कहा था कि श्रीनगर, जम्मू, लेह, पठानकोट, अमृतसर, शिमला, कांगड़ा, कुल्लू मनाली, पिथौरागढ़ में हवाई अड्डे अगले आदेश तक के लिए बंद था. भारतीय वायुसेना द्वारा पाकिस्तान में आतंकी ठिकानों पर हमले किए जाने के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ने के बीच हवाई अड्डों को बंद करने का कदम उठाया गया था।

सुरक्षा समीक्षा के बाद लिया फैसला

पीटीआई के अनुसार भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण के एक अधिकारी ने श्रीनगर में  कहा था, ‘इमरजेंसी के चलते नागरिक हवाई यातायात अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया गया है। हालांकि यह किस तरह की इमरजेंसी की है, इस पर कोई स्पष्ट जवाब नहीं दिया था। माना जा रहा है कि यह कदम बुधवार सुबह बड़गाम जिले में एक IAF जेट दुर्घटनाग्रस्त होने के मद्देनजर उठाया गया था। फिलहाल इन्हें हाई अलर्ट पर रखा गया है।

अधिकारी ने कहा था कि उन्हें एयर ट्रैफिक कंट्रोलर्स से निर्देश मिले हैं कि हवाईअड्डों को नागरिक उड़ानों के लिए बंद कर दिया गया था। उन्होंने कहा था कि जम्मू, लेह और श्रीनगर हवाई अड्डों के कुछ हवाई रास्तों को मोड़ दिया गया था। चंडीगढ़, पठानकोट, बठिंडा  स्थित हलवारा के हवाई अड्डों को में हाई अलर्ट पर रखा गया था। इस सिलसिले में विदेश मंत्रालय प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here