Kunwar Bechain dies of COVID-19, प्रसिद्ध कवि डाॅ कुंवर बेचैन का निधन

Kunwar Bechain। देश दुनिया में उत्तर प्रदेश को पहचान दिलाने वाले लेखक व कवि Kunwar Bechain की बृहस्पतिवार को नोएडा के कैलाश अस्पताल में कोविड-19 के संक्रमण की वजह से उपचार के दौरान मृत्यु हो गई। उनके निधन से साहित्य जगत में शोक की लहर दौड़ गई है।

Kunwar Bechain हुए थे कोरोना संक्रमित

करीब 2 सप्ताह पहले कोरोना संक्रमित होने के बाद डॉ कुंवर बेचैन को नोएडा के कैलाश अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनकी हालत धीरे-धीरे सुधर रही थी, लेकिन बुधवार रात को उनकी तबीयत अचानक बिगड़ गई, तथा उन्हें वेंटिलेटर पर शिफ्ट किया गया। बृहस्पतिवार दोपहर को उनका निधन हो गया।

कुमार विश्वास ने ट्वीट से दी जानकारी

युवा कवि डॉक्टर कुमार विश्वास ने डॉ बेचैन के निधन की जानकारी ट्वीट करके दी। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘‘ मेरे कक्षागुरु, मेरे शोधआचार्य, मेरे चाचा जी, हिंदी गीत के राजकुमार और अनगिनत शिष्यों के जीवन में प्रकाश भरने वाले डॉ कुंवर बेचैन ने ईश्वर के सुरलोक की ओर प्रस्थान किया। कोरोना ने मेरे मन का एक कोना मार दिया।’’

लोगों से मदद मांगी

डॉ बेचैन कोविड-19 से संक्रमित हो गए थे। उन्हें नोएडा व गाजियाबाद में कहीं पर अस्पताल में बेड नहीं मिल रहा था। तब प्रखर कवि कुमार विश्वास ने ट्वीट करके लोगों से मदद मांगी थी। गौतम बुद्ध नगर के सांसद डॉ महेश शर्मा ने उनके ट्वीट का संज्ञान लिया, उन्हें सेक्टर 27 स्थित अपने अस्पताल में भर्ती करवाया।

Kunwar Bechain की पर्सनल बातें

बता दें कि मालूम हो कि कवि कुंवर बेचैन और उनकी पत्नी संतोष कुंवर दोनों कोरोना संक्रमित हो गए थे। इन दोनों की 12 अप्रैल को रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। इसके बाद से दोनों दिल्ली के लक्ष्मीनगर स्थित सूर्या अस्पताल में भर्ती थे। हालत में सुधार नहीं होने पर डॉ. कुंवर बेचैन को आनंद विहार स्थित कोसमोस अस्पताल में शिफ्ट किया गया। वहां उनकी हालत गम्भीर बनी हुई थी, ऐसी जानकारी मिलने पर कुमार विश्वास ने अपने तमाम डॉक्टरों से मदद की अपील की मगर कहीं से मदद नहीं मिली फिर उन्होंने ट्विटर पर मदद मांगी तो नोएडा के कैलाश अस्पताल के मालिक डॉ,महेश शर्मा ने मदद की उनको अपने अस्पताल में बेड दिलवाया। जबकि उनकी पत्नी की हालत स्थिर थी। वह सूर्या अस्पताल में ही भर्ती हैं। डॉ कुंवर बेचैन गाजियाबाद के नेहरू नगर में रहते थे।