ऑनलाइन होगी प्रधानमंत्री की परीक्षा पे चर्चा, प्रतियोगिता से होगा प्रतिभागियों का चयन

pm modi
FILE

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वार्षिक संवाद कार्यक्रम परीक्षा पे चर्चा के तहत मार्च में छात्रों के अलावा अभिभावकों एवं शिक्षकों के साथ ऑनलाइन माध्यम से संवाद करेंगे .चर्चा के दौरान सवाल पूछने वालों का चयन प्रतियोगिता के जरिए होगा। कोविड-19 महामारी के मद्देनजर इस साल ‘परीक्षा पे चर्चा‘ का आयोजन आनलाइन माध्यम से किया जायेगा । शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने बृहस्पतिवार को इस आशय की जानकारी देते हुए बताया कि नौवीं से 12वीं कक्षा तक के छात्रों के साथ यह चर्चा उनकी परीक्षाएं शुरू होने से पहले मार्च में होगी।

मार्च 2021 में आयोजित होगा संवाद

निशंक ने ट्वीट किया, विद्यार्थियों के परीक्षा तनाव को कम कर उन्हें प्रेरणा एवं मार्गदर्शन प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संवाद कार्यक्रम ‘परीक्षा पे चर्चा’ का चौथा संस्करण मार्च 2021 में आयोजित किया जा रहा है। उन्होंने कहा, कोविड-19 महामारी के कारण इस साल चर्चा ऑनलाइन होगी। चर्चा के लिए पंजीकरण बृहस्पतिवार को शुरू होगा तथा 14 मार्च को समाप्त होगा।

परीक्षा पे चर्चा में अभिभावकों एवं शिक्षकों को भी शामिल किया

इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया, लोगों की मांग पर ‘परीक्षा पे चर्चा 2021 में इस बार अभिभावकों एवं शिक्षकों को भी शामिल किया गया है। मैं छात्रों, अभिभावकों एवं शिक्षकों से बड़ी संख्या में परीक्षा पे चर्चा 2021 में हिस्सा लेने की अपील करता हूं । ‘परीक्षा पे चर्चा’ का जिक्र करते हुए शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि प्रधानमंत्री पहले भी छात्रों के साथ ऐसा संवाद करते रहे हैं । इस बार अभिभावकों एवं शिक्षकों के साथ भी संवाद होगा । उन्होंने बताया कि चर्चा के दौरान सवाल पूछने के लिए छात्रों, अभिभावकों, शिक्षकों का चयन प्रतियोगिता के जरिए होगा और इसका आयोजन ‘माईजीओवी.इन’ पर होगा ।

प्रतियोगिता के संबंध में पांच विषय रखे गए हैं

निशंक ने बताया कि छात्रों के लिये प्रतियोगिता के संबंध में पांच विषय रखे गए हैं । इनमें ‘परीक्षा त्योहार की तरह मनायें’, ‘अतुल्य भारत यात्रा एवं खोज’, ‘यात्रा शुरू होती है और समाप्त होती है’, ‘आकांक्षा केवल कुछ बनने की नहीं बल्कि कुछ करने की’ और ‘आभारी रहें’ विषय शामिल हैं । शिक्षकों के लिये ‘आनलाइन शिक्षा का प्रावधान : इसके लाभ और विस्तार’ विषय रखा गया है जबकि अभिभावकों के लिये ‘आपके शब्द, आपके बच्चों की दुनिया बनाने वाले होते हैं, उन्हें प्रोत्साहित करें, बच्चों को दोस्त बनाये’ विषय रखा गया है ।

यह भी पढ़ें: मन की बात में बोले पीएम मोदी-नए कृषि कानूनों ने किसानों की समस्याओं को कम करना शुरू किया

परीक्षा पे चर्चा में एनसीईआरटी के ऑब्ज़र्वर होंगे

मंत्री ने बताया कि राष्ट्रीय शिक्षा अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी) के पर्यवेक्षक एवं समन्वयक प्रतियोगिता का विश्लेषण करेंगे । उन्होंने बताया, चयनित लोगों को प्रधानमंत्री से संवाद करने का मौका मिलेगा। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री के साथ स्कूली छात्रों की इस चर्चा 1.0′ (पहला संस्करण) का आयोजन 16 फरवरी, 2018 को दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में किया गया था।