हरियाणा-महाराष्ट्र में मतगणना शुरू, दोपहर तक साफ होगी तस्वीर

haryana maharashtra
haryana maharashtra

हरियाणा-महाराष्ट्र में विभिन्न स्थानों पर मतगणना शुरू हो गई है। संवेदनशील मतगणना स्थलों पर सुरक्षा के अभूतपूर्व प्रबंध किए गए हैं। रुझान आने लगें हैं और दोपहर तक यह तस्वीर साफ हो जाएगी कि किसके सिर जीत का ताज सजेगा।

हरियाणा और महाराष्ट्र में शुरुआती रुझानों में भाजपा आगे चल रही थी। दोनों राज्यों में भाजपा को सत्ता में वापसी की उम्मीद है। वोटिंग के बाद आए एग्जिट पोल के नतीजों में भी यही संभावना जताई गई है। महाराष्ट्र में भाजपा ने शिवसेना के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ा, जिसका मुख्य मुकाबला कांग्रेस और एनसीपी गठबंधन से है। वहीं, दूसरी ओर हरियाणा में भाजपा और कांग्रेस के बीच सीधी टक्कर है।

हरियाणा-महाराष्ट्र में सोमवार को हुआ था मतदान

महाराष्ट्र की 288 और हरियाणा की 90 सीटों के लिए सोमवार को मतदान हुआ था। महाराष्ट्र में 3,237 उम्मीदवार मैदान में हैं, जिनमें 235 महिलाएं हैं। वहीं, हरियाणा में 104 महिलाओं सहित कुल 1169 प्रत्याशी मैदान में हैं। महाराष्ट्र में 269 और हरियाणा में हर विधानसभा क्षेत्र में एक मतगणना केंद्र बनाया गया है। हालांकि गुरुग्राम के बादशाहपुर में एक अतिरिक्त मतगणना केंद्र बनाया गया है, जिसमें सबसे ज्यादा पोलिंग बूथ हैं।

haryana_election-New
haryana_election-New

देश के 18 राज्यों की 51 विधानसभा और दो लोकसभा सीटों के लिए हुए उपचुनाव में वोटों की गिनती भी हो रही है। इन सीटों में से करीब 30 सीट भाजपा और उसके सहयोगियों के पास है। वहीं 12 सीटें कांग्रेस और बाकी अन्य क्षेत्रीय पार्टियों के पास है। उपचुनाव पार्टियों के लिए प्रतिष्ठा की लड़ाई है क्योंकि परिणाम विधानसभा के गणित को आंशिक रूप से ही बदल पाएंगे। इसके परिणाम से पार्टियों में उत्साह बढ़ेगा। सोमवार को आयोजित हुए उपचुनाव में 57 फीसदी मतदान हुआ था। आज चुनाव नतीजे घोषित कर दिए जाएंगे। https://www.indiamoods.com/bjp-is-expected-to-win-big-in-haryana-know-congresss-condition/

हरियाणा-महाराष्ट्र में चुनाव के अलावा इन राज्यों में हुआ है उपचुनाव

सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश की 11 सीटों पर उपचुनाव हुआ था। वहीं इसके बाद गुजरात में छह, बिहार में पांच, असम में चार, हिमाचल प्रदेश में दो और तमिलनाडु में दो सीटों पर उपचुनाव हुए थे। जिन दो लोकसभा सीटों पर उपचुनाव हुआ था, उनमें से एक महाराष्ट्र की सतारा लोकसभा सीट और बिहार की समस्तीपुर लोकसभा सीट है। ये सीटें क्रमश: राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) और लोकजनशक्ति पार्टी (लोजपा) के पास थी। राजनीतिक रूप से महत्वपूर्ण उत्तर प्रदेश में उपचुनाव एक तरह से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के लिए परीक्षा की तरह है। भाजपा के पास यहां 403 विधानसभा सीटों में से 302 हैं।

यहां 11 सीटों के लिए भाजपा, बहुजन समाज पार्टी (बसपा), समाजवादी पार्टी (सपा) और कांग्रेस के बीच चौतरफा मुकाबला है। इन सीटों में से आठ सीट पहले भाजपा के पास थी, एक सीट उसके सहयोगी दल अपना दल (सोनेलाल) के पास थी। वहीं रामपुर और जलालपुर (आंबेडकरनगर) क्रमश: समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के पास थी। राज्य में सोमवार को 47.05 फीसदी मतदान हुआ था।