Corona attack on PGI Chandigarh-157 डॉक्टर, 352 हेल्थ वर्कर हुए पॉजिटिव

chd pgi
chd pgi

Corona attack on PGI Chandigarh=पीजीआई चंडीगढ़ पर कोरोना ने अटैक कर दिया है। 352 हेल्थ वर्कर और 157 डॉक्टर कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। इसमें जूनियर, सीनियर रेजीडेंट डॉक्टर और फैकल्टी सदस्य शामिल हैं। जितने लोग चपेट में आये हैं, उनमें से 95 प्रतिशत को वैक्सीन की डबल डोज लगी हुई है। इन सभी में कोरोना के हलके लक्षण हैं।

जो स्टूडेंट हॉस्टल में रह रहे हैं और उनके पास होम आइसोलेशन की सुविधा नहीं है, उन्हें नेहरू अस्पताल एक्टेंशन वार्ड में आइसोलेट किया गया है। पीजीआई के कम्युनिटी मेडिसिन एंड स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ की डॉक्टर (प्रोफेसर) पीबीएम लक्ष्मी के अनुसार अभी यह कहना मुश्किल हैं कि कितने संक्रमितों को ओमीक्रोन है या नहीं। पीजीआई प्रशासन पूरी स्थिति पर नजर बनाए रखे हुए है। पीजीआई में कोरोना को नियंत्रित करने के लिए उचित कदम उठाए जा रहे हैं और कोविड नियमों का सख्ती से पालन किया जा रहा है।

सभी गतिविधियां बंद

प्रशासन ने एसोसिएशन ऑफ रेजिडेंट डॉक्टर्स के साथ मिलकर पीजीआई हॉस्टल में सभी मैसिंग सुविधाओं को ‘टेक अवे’ भोजनालयों में बदलने का फैसला किया है। सभी खेल आयोजन/टूर्नामेंट रद्द कर दिए गए हैं और इनडोर कोर्ट बंद कर दिए गए हैं।
संस्थान में शिक्षण गतिविधियां ऑनलाइन मोड के माध्यम से संचालित की जा रही हैं।

10 जनवरी से ओपीडी बंद

बढ़ते संक्रमित मामलों को देखते हुए पीजीआई में 10 जनवरी से फिजिकल ओपीडी बंद करने का फैसला लिया गया है। कोरोना की पिछली लहर की तरह अब ओपीडी में दिखाने के लिए मरीजों को डॉक्टर से पहले अप्वाइंटमेंट लेनी पड़ेगी।
बिना अप्वाइंटमेंट के मरीजों को फिजिकल ओपीडी में नहीं देखा जायेगा।

ट्राईसिटी में 1209 मरीज संक्रमित


ट्राईसिटी चंडीगढ़ में आज कोरोना के 1209 नये पॉजिटिव केस आये हैं। वहीं, पंचकूला में अचानक 500 मामलों की पुष्टि होने से स्वास्थ्य विभाग के लिए चिंता बढ़ा दी है जबकि मोहाली में 319 संक्रमित मरीज मिलने से अस्पतालों के स्टाफ को चौकस कर दिया गया है।

चंडीगढ़ में आज कोरोना के 390 नये केस आने से सक्रिय केसों की संख्या बढ़कर 1323 हो गयी है।