CBI ने कोयला चोरी मामले में सांसद अभिषेक बनर्जी की पत्नी, रिश्तेदार मेनका को नोटिस थमाया

CBI

CBI की एक टीम रविवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे एवं तृणमूल कांग्रेस के सांसद अभिषेक बनर्जी के कोलकाता स्थित घर पहुंची और उनकी पत्नी को एक नोटिस थमाकर कोयला चोरी मामले की जांच में शामिल होने को कहा। इस घटनाक्रम ने चुनावी राज्य पश्चिम बंगाल में राजनीतिक तापमान को और बढ़ा दिया है।

सांसद अभिषेक बनर्जी की पत्नी पर ये हैं आरोप…

बताया जा रहा है कि सीबीआई ने अभिषेक की पत्नी रुजिरा बनर्जी को पश्चिम बंगाल स्थित ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (ईसीएल) से कोयला चोरी के मामले में जारी नोटिस थमाया। इस मामले में अनूप मांझी को कथित मास्टरमाइंड बताया जाता है। रविवार को जारी नोटिस में रुजिरा से कहा गया कि वह हरीश मुखर्जी रोड स्थित अपने पते पर मामले से संबंधित कुछ सवालों के जवाब के लिये हाज़िर रहें। सीबीआई की कार्रवाई पर तृणमूल कांग्रेस और भाजपा ने एक-दूसरे पर निशाना साधा।

हम वे लोग नहीं हैं, जो झुक जाएं-अभिषेक

Banerjee abhishek
FILE

अभिषेक बनर्जी ने ट्वीट किया, आज अपराह्न दो बजे, सीबीआई ने मेरी पत्नी के नाम एक नोटिस तामील किया। हमें देश के कानून पर पूरा भरोसा है। हालांकि, यदि वे सोचते हैं कि वे हमें डराने के लिए इन हथकंडों का इस्तेमाल कर सकते हैं तो वे गलत हैं। हम वे लोग नहीं हैं, जो झुक जाएं। केंद्रीय जांच एजेंसी की कार्रवाई पर तृणमूल कांग्रेस ने राजनीतिक प्रतिशोध का आरोप लगाते हुए केंद्र में सत्तारूढ़ भाजपा पर हमला बोला और कहा कि सीबीआई इसका एकमात्र घटक है जो अब उसके पास बचा है।

सांसद अभिषेक बनर्जी ने बीजेपी पर हमला बोला

वहीं, भाजपा ने तृणमूल कांग्रेस पर हमला बोलते हुए आरोप लगाया कि वह मामले का राजनीतिकरण कर रही है और कानून अपना काम करेगा। सूत्रों ने कहा कि सीबीआई ने मामले में शुक्रवार को नए सिरे से एक और दौर के तलाशी अभियान को अंजाम दिया था। केंद्रीय जांच एजेंसी ने गत नवंबर में चोरी रैकेट के सरगना मांझी उर्फ लाला, ईस्टर्न कोलफील्ड लिमिटेड (ईसीएल) के महाप्रबंधकों-अमित कुमार धर (तत्कालीन कुनुस्तोरिया क्षेत्र और अब पांडवेश्वर क्षेत्र) तथा जयेश चंद्र राय (काजोर क्षेत्र) , ईसीएल के सुरक्षा प्रमुख तन्मय दास, क्षेत्र सुरक्षा निरीक्षक, कुनुस्तोरिया, धनंजय राय और एसएसआई एवं काजोर क्षेत्र के सुरक्षा प्रभारी देबाशीष मुखर्जी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी।

यह भी पढ़ें: सीबीआई-पुलिस विवाद पर लोकसभा में तृणमूल सदस्यों का हंगामा, कार्यवाही स्थगित

खदानों से कोयले के अवैध खनन और चोरी से जुड़ा है मामला

आरोप है कि मांझी उर्फ लाला कुनुस्तोरिया और काजोरा क्षेत्रों में ईसीएल की पट्टे पर दी गईं खदानों से कोयले के अवैध खनन और चोरी में लिप्त है। पश्चिम बंगाल में इस साल अप्रैल-मई में चुनाव होना है, जहां भाजपा ने तृणमूल कांग्रेस को अपदस्थ करने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है। डायमंड हार्बर से लोकसभा सदस्य अभिषेक बनर्जी का तृणमूल कांग्रेस में खासा प्रभाव है।

सांसद अभिषेक बनर्जी के करीबी बिनय मिश्रा को भी नोटिस

सीबीआई ने अभिषेक के करीबी माने जाने वाले बिनय मिश्रा को भी एक अलग मामले में नोटिस थमाया है जो मवेशी तस्करी से जुड़ा है। बनर्जी की पत्नी को केंद्रीय जांच एजेंसी ने ऐसे दिन नोटिस थमाया है, जब एक दिन बाद कोलकाता की एक अदालत में बनर्जी द्वारा केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के खिलाफ दायर किए गए मानहानि के मामले में सुनवाई होनी है।

सीबीआई ने तृणमूल कांग्रेस के सांसद अभिषेक बनर्जी की रिश्तेदार मेनका गंभीर को कोयला चोरी मामले में सोमवार को तलब किया: अधिकारी।