ब्राज़ील के राष्ट्रपति बोलसोनारो ने नहीं पहना मास्क, साओ पाउलो राज्य सरकार ने लगा दिया जुर्माना

brazil president bosonaro

कोरोना नियमों का उलंघन करने के आरोप में ब्राज़ील के राष्ट्रपति बोलसोनारो (President Bolsonaro) पर साओ पाउलो (Sao Paulo) राज्य की सरकार ने 552 ब्राज़ीलियन रियाल (क़रीब 108 डॉलर) का जुर्माना लगाया है। बोलसोनारो इससे पहले भी कोविड पाबंदियों का विरोध करते रहे हैं। वे कई बार कोरोना के कारण लगाई पाबंदियों और मास्क लगाने का विरोध करने के लिए चर्चा में भी रहे हैं।

मोटर साइकिल रैली में शिरकत करने पहुंचे थे

साओ पाउलो में आयोजित ‘एसलरेट फ़ॉर क्राइस्ट’ (Accelerate for Christ) मोटर साइकिल रैली का नेतृत्व राष्ट्रपति बोलसोनारो कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने मास्क नहीं लगाया था और ऐसा हेलमेट पहना था जिसमें उनका चेहरा पूरी तरह नहीं ढका था। शनिवार को साओ पाउलो में मोटर साइकिल रैली में शिरकत करने पहुंचे। बोलसोनारो ने मास्क नहीं लगाया था और वो रैली में लोगों के साथ घुलते-मिलते नज़र आए थे।

ब्राज़ील के राष्ट्रपति बोलसोनारो बोले-वैक्सीन ले चुके लोगों पर क्या बोले–

रैली के दौरान बोलसोनारो ने कहा कि वो टीका ले चुके लोगों के लिए मास्क पहनने के नियम को हटाने पर विचार कर रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘ जो भी इसका विरोध करता है वो विज्ञान में यकीन नहीं करता। जिस व्यक्ति को कोरोना वैक्सीन लगी है उस व्यक्ति से किसी दूसरे को कोरोना संक्रमण नहीं फैल सकता।’ हालांकि वैज्ञानिक समुदाय ने इस बात का अब तक समर्थन नहीं किया है कि वैक्सीन लगवाने के बाद व्यक्ति से कोरोना संक्रमण नहीं होता।

यह भी पढ़ें: कोविड-19: दुनियाभर में छह लाख से ज्यादा लोगों की मौत, हांगकांग में सख्त पाबंदियां, भारत में आंकड़ा 11 लाख के पार

एक मंत्री और नेता के बेटे पर भी जुर्माना

bolsonaro

स्थानीय सरकार ने बोलसोनारो समेत इंफ्रास्ट्रक्चर मंत्री तार्चिज़ियो गोम्स और एक नेता के बेटे पर भी मास्क न पहनने और सोशल डिस्टेन्सिंग के नियमों का पालन न करने को लेकर जुर्माना लगाया है। बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक इस संबंध में अब तक राष्ट्रपति के दफ्तर से कोई जवाब नहीं मिला है।

ब्राज़ील के राष्ट्रपति बोलसोनारो फिर से चुनाव लड़ना चाहते हैं

brazil

बोलसोनारो ब्राज़ील में अगले साल राष्ट्पति चुनावों में एक बार फिर से अपनी किस्मत आजमाना चाहते हैं, इसलिए वो देश में अलग-अलग जगहों पर इस तरह रैलियों में शिरकत कर रहे हैं।साओ पाउलो में हुई रैली से पहले यहां के गवर्नर ज़ोआओ डोरिया ने कहा था कि अगर राष्ट्रपति ने राज्य में लागू कोविड से जुड़े नियमों का पालन नहीं किया तो उनके ख़िलाफ़ कार्रवाई की जाएगी।

कोरोना से मौतों के मामले में दूसरे नंबर पर है ब्राज़ील

राष्ट्रपति पद की दौड़ में डोरिया, बोलसोनारो के प्रतिद्वंदी हैं। बताया जाता है कि कोविड-19 से जुड़े नियमों को लेकर बोलसोनारो, जोआओ डोरिया समेत कई राज्यों के गवर्नरों से पहले भी बहस कर चुके हैं। जॉन्स हॉप्किन्स के कोरोना डैशबोर्ड के अनुसार ब्राज़ील में अब तक कोरोना के कारण 4,86,272 लोगों की मौत हो चुकी है। कोरोना से मौतों के मामले में ब्राज़ील में अमेरिका के बाद दुनिया में दूसरे नंबर पर है। अमेरिका में अब तक कोरोना से मौतों का आंकड़ा 5,99,664 तक पहुंच चुका है।