प्रेगनेंसी में पुदीने की चटनी के फायदे 

Mint-chutneys-recipe

पुदीने की चटनी: अगर आप इस चटनी में लाइम जूस डालते हैं तो इसका रंग बदल जाएगा और स्वाद में भी बदलाव आएगा। काला नमक और जीरा बहुत अच्छा स्वाद देते हैं। साबुत जीरे की जगह आप ऊपर से इसका पाउडर चटनी पर डाल सकते हैं। अगर आप दही इस्तेमाल न भी करना चाहें तो कोई बात नहीं, इसकी जगह काजू भी डाल सकती हैं।   

प्रेगनेंसी में पुदीने की चटनी के फायदे प्रेगनेंसी में कई तरह की चटपटी चीज़ों को खाने का मन करता है। कई चटनी, अचार और तीखा खाना खाने का मन होता है। फर्स्ट ट्राइमेस्टर (1st trimester) में पुदीने की सुगंध कुछ महिलाओं को बहुत भाती है। पुदीने की चटनी के प्रेगनेंसी में कई फायदेमंद है। यह चटनी पुदीने की पत्तियों, धनिया पत्ती, हरी मिर्च और इमली के रस के साथ बनाई जाती है। कुछ लोग इसमें फ्लेवर बढ़ाने के लिये लहसुन, जीरा और कुछ मसाले भी डालना पसंद करते हैं। जबकि आमतौर पर पुदीने की चटनी में दही का भी इस्तेमाल होता है।

पुदीने की चटनी खाने के फायदे 

Mint-chutneys

-पुदीने की चटनी लो फैट वाली होने के साथ साथ पाचन के लिए भी बेहतरीन है।

-पुदीने की चटनी पाचन को दुरुस्त रखने में मददगार है। पुदीने की चटनी प्रेगनेंसी के शुरुआती महीनों में होने वाली मतली और उल्टी की समस्या को ठीक कर सकती हैं।

-पुदीना भूख भी बढ़ाता है इसलिये इसकी चटनी अच्छे एपेटाइज़र का काम करती है।

-पुदीने की पत्तियों में जो भीनी सी सुगंध होती है इसलिये यह चटनी प्रेगनेंट महिलाओं के नर्वस सिस्टम को शांत रखने में मददगार होती है।

-पुदीने की चटनी ओरल हेल्थ की समस्याओं से निपटने में मददगार है।

पुदीने में मौजूद एंटीइंफ्लेमेटरी और एंटीबैक्टीरियल गुण दांतों की सड़न को भी रोकते हैं।

पुदीने की चटनी को  blood purifier की तरह काम करने के लिए भी जाना जाता है। 

पुदीने की चटनी में डाली जाने वाली सामग्री में विटामिन सी, बी, और डी के अलावा कई मिनरल्स भी होते हैं।

सामग्री ( ingredients)

mint leaves

1 कप ताजा

½ कप धनिया पत्ती

2 बड़ी चम्मच। दही

2 हरी मिर्च

¼ कप कटा हुआ प्याज

1 बड़ा चम्मच कटा हुआ लहसुन

1 बड़ा चम्मच नींबू का रस

1 छोटा चम्मच जीरा

1 बड़ा चम्मच चाट मसाला

1 चम्मच चीनी

काला नमक

बनाने की विधि

सारी सामग्री लेकर धो दें और एक तरफ रखें।

अब मिक्सी में डालकर इन्हें पीस दें। पहले 30 सेकेंड के बाद इसमें थोड़ा पानी डालें। इसके बाद इसे औ्र कुछ देर तक पीसें और पेस्ट बनने दें। ध्यान रखें कि चटनी में इतना ही पानी डालें कि यह बहुत पतली न हो जाए। अब इसे कंटेनर में निकालकर रखें और 30 मिनट तक ठंडा होने दें।