‘अमृतसर हमले में खालिस्तानियों का हाथ होने की आशंका’/ Rs 50 lakh reward given to the informer, suspect seen in CCTV

पंजाब के अमृतसर जिले के संत निरंकारी आश्रम में हुए हमले में पुलिस के हाथ अहम सुराग लगे हैं। एक तरफ जहां संदिग्ध सीसीटीवी में दिखे हैं तो दूसरी ओर जांच में नया खुलासा हुआ है। अपुष्ट खबरों के मुताबिक शुरुआती जांच के बाद पुलिस ने आशंका जताई है कि इस हमले में स्थानीय युवकों का हाथ हो सकता है। शुरुआती जांच में यह बात सामने आई है कि रविवार को हुए हमले से पहले दो बार आश्रम की रेक्की की गई थी, हमलावर को पहले से ही इस बात की जानकारी थी कि हर रविवार को ही समागम होता है और सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालु इक्ट्ठा होते हैं।

खालिस्तानी समर्थक गुटों ने दिया ग्रेनेड

एक नामी टीवी चैनल ने सूत्रों के हवाले से मिल रही जानकारी के मुताबिक कहा है कि , रविवार को आश्रम में ब्लास्ट करने के लिए खालिस्तानी समर्थिक गुटों की तरफ से दोनों युवकों को ग्रेनेड मुहैया कराया गया होगा। वहीं, खुफिया एजेंसियों ने आशंका जताई है कि कनाडा और यूके में रहने वाले खालिस्तानी समर्थित गुट पंजाब में दंगे फैलाने की कर रहे हैं। एजेंसियों को शक है यूएई के एक शूटिंग क्लब से खालिस्तानी गुट पंजाब में आतंक फैलाने की कर रहे हैं।

सूचना देने वाले को इनाम

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अमृतसर में निरंकारी भवन पर हमला करने वालों का सुराग देने वालों को इनाम देने की घोषणा की है। सीएम ने कहा कि जो शख्स हमलावरों के बारे में बताएगा, उसे 50 लाख रुपये का इनाम दिया जाएगा. उसकी पहचान गुप्त रखी जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here