एयर स्ट्राइक पर वायुसेना प्रमुख का जवाब- कितने मरे यह गिनना हमारा काम नहीं

‍एयर चीफ मार्शल बीएस धनोवा

पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी ठिकानों पर की गई एयर स्ट्राइक  पर वायुसेना प्रमुख ने मीडिया से बात की। जहां एयर स्ट्राइक के बाद विपक्षी पार्टियां सरकार से और सेना से सबूत मांग रही हैं वहीं इस बारे में पहली बार वायु सेना प्रमुख बी.एस धनोआ मीडिया से रूबरू हुए। मीडिया के सवालों के जवाब में उन्होंने कहा कि अभी ऑपरेशन खत्म नहीं हुआ है। एयर मार्शल ने एयर स्ट्राइक पर सवाल उठाने वालों को भी जवाब देते हुए कहा,

‘हमारा ऑपरेशन अभी खत्म नहीं हुआ, हमने एयर स्ट्राइक में टारगेट को हिट किया। बालाकोट हवाई हमले में हताहत हुए आतंकियों की संख्या की जानकारी सरकार देगी।’

“लक्ष्य के बारे में विदेश सचिव ने अपने बयान में विस्तार से बताया था… अगर हम किसी लक्ष्य पर निशाना साधने की योजना बनाते हैं, तो हम उसे निशाना बनाते हैं, वरना क्यों उन्होंने (पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने) जवाब दिया होता… अगर हमने जंगल में बम गिराए होते, तो वह क्यों जवाब देते…?”

https://twitter.com/ANI/status/1102464311593717760

उन्होंने कहा कि अगर जंगल में बम गिरते तो फिर पाकिस्तान जवाबी हमला क्यों करता? कितने आतंकी मरे इस सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि लाशें गिनना हमारा काम नहीं है, हमें जो करना था वो हमने सफलतापूर्वक किया। पाकिस्तान के एफ 16 को गिराने वाले मिग 21के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के एफ 16 लड़ाकू विमान का मुकाबला करने के लिए इस्तेमाल किया गया मिग 21 आधुनिक हथियार प्रणाली वाला उन्नत विमान था और हवा से हवा में मारप करने वाली मिसाइलें और बेहतर हथियार सिस्टम हैं।

‘पाकिस्तान ने इस्तेमाल किया था एफ-16’

पाकिस्तान द्वारा जवाबी हमले में एफ-16 लड़ाकू विमान के प्रयोग पर उन्होंने कहा , कि  F-16 मिसाइल के टुकड़े हमें मिले हैं, निश्चित रूप से उन्होंने F-16 लड़ाकू विमान का इस्तेमाल किया था।

इस दौरान एक सवाल के जवाब में एयर मार्शल ने कहा कि  ‘विंग कमांडर अभिनंदन को हर आवश्यक चिकित्सा मुहैया कराई जाएगी। यह उनकी मेडिकल फिटनेस पर निर्भर करेगा कि वह भविष्य में दोबारा लड़ाकू विमान उडा़ पाएंगे या नहीं।’