Adelaide Test of 2003-04- जब Perth की पिच पर भारत के इस हीरो ने छुड़ाये कंगारुओं के छक्के

Sachin Tendulkar And Rahul Dravid

Adelaide Test of 2003-04-ऑस्ट्रेलियन सरजमीं पर भारत को टेस्ट मैच जिताने वाले नायकों की फेहरिस्त में बात 2003-04 के एडिलेड टेस्ट की.यहां पर जीत के हीरो बने थे राहुल द्रविड़. इस दौरान सीरीज का Bribane Test मैच ड्रॉ पर समाप्त हुआ.दूसरा टेस्ट मैच Adelaide में आयोजित हुआ. ऑस्ट्रेलिया के 556 रनों के जवाब में भारत ने 523 रन बनाकर ऑस्ट्रेलिया को करारा जवाब दिया.

वीवीएस के साथ राहुल की साझेदारी

राहुल द्रविड़ ने जेसन गिलेस्पी, Andy Bichle और Braud Williums जैसे तेज गेंदबाजों का मजबूती से सामना करते हुए दोहरा शतक 233 रन बनाए. भारत के 85 रन पर चार विकेट गिरने पर राहुल द्रविड़ ने वीवीएस लक्ष्मण के साथ मोर्चा संभाला और पांचवें विकेट के लिए 303 रनों की मैराथन साझेदारी की. ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी में 196 रन ही बन सके.

यह भी पढ़ें: 1980-81 IndiaVsAustralia- ऑस्ट्रेलिया में भारत की पहली जीत के नायक थे ये Cricketers

Adelaide Test of 2003-04-सचिन के साथ राहुल द्रविड़ की साझेदारी

भारत को टेस्ट मैच जीतने के लिए अपनी दूसरी पारी में 230 रनों की दरकार थी. भारत के 79 रनों पर दो विकेट गिरने से स्थिति गंभीर हो गई थी लेकिन राहुल द्रविड़ ने सचिन के साथ तीसरे विकेट के लिए करीब 70 रन जोड़कर कोई अनहोनी नहीं होने दी.राहुल द्रविड़ 72 रन बनाकर नाबाद रहे और भारत को 4 विकेट से जीत दिलाने में कामयाब रहे.

मेलबर्न और सिडनी टेस्ट मैच हारने के बाद टीम इंडिया में हुआ बदलाव

अब बात एक अन्य हीरो की. 2007-08 ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भारत मेलबर्न और सिडनी टेस्ट मैच हार गया था. तीसरा मैच वाका की तेज पिच Perth पर खेला गया. दो टेस्ट मैच हार चुकी भारतीय टीम में मैनेजमेंट ने अचानक दो परिवर्तन किए और हरभजन सिंह व युवराज सिंह के स्थान पर वीरेंद्र सहवाग और इरफान पठान को मौका दिया. भारत ने पहले बल्लेबाजी की और 330 रनों का सम्मानजनक स्कोर बनाया. राहुल द्रविड़ ने 93 और सचिन ने 71 रन बनाए. इरफान पठान ने निचले क्रम में 28 रन बनाए.

Adelaide Test of 2003-04-कंगारुओं के सामने रखा था 400 रन का स्कोर

ऑस्ट्रेलिया की टीम बल्लेबाजी करने उतरी तो इरफान पठान ने ऑस्ट्रेलियाई ओपनर क्रिस रोजर्स और fhill jacqus के विकेट जल्दी ले लिए. 13 रन पर 2 विकेट गिरने से ऑस्ट्रेलिया की अच्छी शुरुआत पर पानी फिर गया. ऑस्ट्रेलिया का मध्यक्रम भी रन नहीं बना सका और टीम 212 रन ही बना सकी. भारत को 118 रन की बढ़िया बढ़त मिली. भारत ने दूसरी पारी में 294 रन का स्कोर बनाया और ऑस्ट्रेलिया के सामने 400 रनों से ऊपर की चुनौती रखी.

इरफान ने बनाया कंगारुओं पर दबाव

भारतीय पहली पारी में 28 रन बनाने वाले इरफान पठान को दूसरी पारी में बल्लेबाजी क्रम में ऊपर भेजा गया.इरफान ने निराश नहीं किया और 46 रनों की आत्मविश्वास भरी पारी खेली. बहरहाल बड़े लक्ष्य का पीछा करने उतरी ऑस्ट्रेलिया की टीम को पिछली बार की तरह इस बार भी इरफान पठान ने शुरुआती झटके देकर मध्यक्रम को दबाव में ला दिया. उन्होंने 21 रनों के योग पर chris rozers और 43 की टीम कुल योग पर fhill jacqes अपना शिकार बनाया. जल्दी विकेट के गिरने से ऑस्ट्रेलियाई टीम उबर नहीं पाई और नियमित अंतराल पर विकेट गिरते रहे.इस पारी में इरफान पठान ने कुल 3 विकेट लिए और श्रृंखला के पदार्पण मैच में ही जीत के नायक बनकर उभरे.