Aaj Ka Panchang 31 May Monday, शिवभक्ति का उत्तम दिन है आज

शिव का आशीष चाहिए तो आज बाल नहीं कटवाएं। सोमवार के दिन क्षौरकर्म अर्थात बाल, दाढ़ी काटने या कटाने से पुत्र का अनिष्ट होता है शिवभक्ति को भी हानि पहुँचती है अत: सोमवार को ना तो बाल और ना ही दाढ़ी कटवाएं । सोमवार के दिन भगवान शंकर की आराधना, अभिषेक करने से चन्द्रमा मजबूत होता है, काल सर्प दोष दूर होता है।

शुभ ही शुभ

सोमवार का व्रत रखने से मनचाहा जीवन साथी मिलता है, वैवाहिक जीवन में लम्बा और सुखमय होता है।
जीवन में शुभ फलो की प्राप्ति के लिए हर सोमवार को शिवलिंग पर पंचामृत या मीठा कच्चा दूध एवं काले तिल चढ़ाएं, इससे भगवान महादेव की कृपा बनी रहती है परिवार से रोग दूर रहते है ।

यह भी पढ़ें: पवित्र अमरनाथ गुफा में बना 20-22 फुट ऊंचा हिमलिंग, फिलहाल यात्रा पर मंडरा रहा है कोरोना का साया

shivji
pic credit-Twitter-geetapress

जानें आज के हर पहर को

  • 🔮 विक्रम संवत् 2078 आनन्द, विक्रम सम्वत संवत्सर तदुपरि खिस्ताब्द आंग्ल वर्ष 2021
  • 🔯 शक संवत – 1943,
  • ☸️ कलि संवत 5122
  • ☣️ अयन – उत्तरायण
  • 🌦️ ऋतु – सौर ग्रीष्म ऋतु
  • 🌤️ मास – ज्यैष्ठ माह
  • 🌖 पक्ष – कृष्ण पक्ष,
  • 📆 तिथि – षष्ठी – 25:05+ तक तत्पश्चात सप्तमी
  • ✏️ तिथि का स्वामी – षष्ठी तिथि के स्वामी कार्तिकेय और सप्तमी तिथि के स्वामी भगवान सूर्यदेव जी है ।
  • 💫 नक्षत्र – श्रवण – 16:02 तक तत्पश्चात धनिष्ठा
  • 🪐 नक्षत्र के देवता, ग्रह स्वामी- श्रवण नक्षत्र के देवता विश्वकर्मा जी है।
  • 🔔 ₹योग – ब्रह्म – 06:04 तक_
  • ⚡ प्रथम करण : – गर – 13:33 तक
  • ✨ द्वितीय करण : वणिज – 25:05+ तक
  • 🔥 गुलिक काल : – दोपहर 1:30 से 3 बजे तक ।
  • ⚜️ दिशाशूल – सोमवार को पूर्व दिशा का दिकशूल होता है । यात्रा, कार्यों में सफलता के लिए घर से दर्पण देखकर, दूध पीकर जाएँ ।
  • 🤖 राहुकाल -सुबह -7:30 से 9:00 तक।
  • 🌞 सूर्योदय – प्रातः 05:33
  • 🌅 सूर्यास्त – सायं 18:38
  • 🌟 अभिजित मुहूर्त पूर्वान्ह 11:51 एएम से 12:47 पीएम तक
  • ✡️ विजय मुहूर्त दोपहर 02.37 पीएम से 03.33 पीएम तक
  • 🗣️ निशिथ काल रात 11.59 पीएम से 12.39 एएम तक (1 जून)
  • 🐃 गोधूलि मुहूर्त शाम 07.00 पीएम से 07.24 पीएम तक
  • 👸🏻 ब्रह्म मुहूर्त सुबह 04.02 एएम से 04.43 एएम तक (1 जून)
  • 💧 अमृत काल सुबह 05:55 एएम से 07:28 एएम तक
  • ☀️ रवि योग शाम 04:02 पीएम से 05:24 एएम तक (1 जून)
  • ⭐ सर्वार्थसिद्धि योग सुबह 05:24 एएम से 04:02 पीएम तक
  • 🚓 यात्रा शकुन- मीठा दूध पीकर यात्रा करें।

जानें आज के हर पहर को


आज का मंत्र-ॐ सौं सोमाय नम:। आज का उपाय-जरूरतमंदों में लस्सी दान करें। वनस्पति तंत्र उपाय- पलाश के वृक्ष में जल चढ़ाएं।
पर्व व त्योहार- श्री श्रेयांस नाथ जी गर्भकल्याण, वीरांगना अहिल्याबाई होलकर जयंती, श्री द्वारका प्रसाद मिश्र स्मृति दिवस, श्री गुरनाम सिंह स्मृति दिवस, विश्व तम्बाकू दिवस, पंचक प्रारंभ।

स्वामी कार्तिकेय जी का पूजन


मित्रों, षष्ठी तिथि को तैल कर्म अर्थात शरीर में तेल मालिश करना या करवाना एवं सप्तमी तिथि को आँवला खाना तथा दान करना भी वर्ज्य बताया गया है। षष्ठी तिथि के स्वामी भगवान शिव के पुत्र स्वामी कार्तिकेय हैं तथा नन्दा नाम से विख्यात यह तिथि शुक्ल एवं कृष्ण दोनों पक्षों में मध्यम फलदायीनी मानी जाती है। इस तिथि में स्वामी कार्तिकेय जी के पूजन से सभी कामनाओं की पूर्ति होती है। विशेषकर वीरता, सम्पन्नता, शक्ति, यश और प्रतिष्ठा कि अकल्पनीय वृद्धि होती है।

Shiva bhajans & chants : https://www.artofliving.org/in-en/shiva-bhajans-and-chants