नवरात्र है आज दूसरा, मां ब्रह्मचारिणी पूजा करें, Panchang 14 April

नवरात्र (चैत्र) कल से आरंभ हो चुके हैं। आज है दूसरा नवरात्र। आज मन से करें मां ब्रह्मचारिणी की पूजा। मन से कई पूजा का फल मां जरूर देती है।

नवरात्र है आज दूसरा, जानें आज क्या करें और क्या नहीं

बुधवार के दिन तेल का मर्दन करने से अर्थात तेल लगाने से माता लक्ष्मी प्रसन्न होती है धन लाभ मिलता है। बुधवार का दिन विघ्नहर्ता गणेश का दिन हैं। इस दिन गणेशजी की पूजा अर्चना से सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं। बुधवार को सभी ग्रहो के राजकुमार बुध देव की आराधना करने से ज्ञान मिलता है, वाकपटुता में प्रवीणता आती है, धन लाभ होता है । बुधवार को गाय को हरा चारा खिलाने तथारात को सोते समय फिटकरी से दाँत साफ करने से आर्थिक पक्ष मजबूत होता है ।

यह भी पढ़ें: https://www.indiamoods.com/mata-vaishno-devi-coins-will-make-you-rich-know-how-to-do/

नवरात्र है आज दूसरा, डालें हर पहर पर पैनी नज़र


🔮 विक्रम संवत् 2078 आनन्द, विक्रम सम्वत संवत्सर तदुपरि खिस्ताब्द आंग्ल वर्ष 2021
🔯 शक संवत – 1943,
☸️ कलि संवत 5122
☣️ अयन – उत्तरायण
🌦️ ऋतु – सौर वसंत ऋतु
🌤️ मास – चैत्र माह
🌒 पक्ष – शुक्ल पक्ष,
📆 तिथि – द्वितीया – 12:47 PM तक तत्पश्चात तृतीया
📝 तिथि के स्वामी – द्वितीया तिथि के स्वामी भगवान ब्रह्मा जी और तृतीया तिथि के स्वामी माँ गौरी और कुबेर जी है।
💫 नक्षत्र – भरणी – 17:23 PM तक तत्पश्चात कृतिका
🪙 नक्षत्र के देवता, ग्रह स्वामी- भरणी नक्षत्र के देवता यमराज जी और नक्षत्र के स्वामी शुक्र जी है ।
🔊 योग – प्रीति – 16:16 PM तक तत्पश्चात आयुष्मान्
⚡ प्रथम करण : – कौलव – 12:47 PM तक
✨ द्वितीय करण : – तैतिल – 02:06 AM, 15 अप्रैल तक
🔥 गुलिक काल : – बुधवार को शुभ गुलिक 10:30 से 12 बजे तक ।
🤖 राहुकाल : – बुधवार को राहुकाल दिन 12:00 से 1:30 तक ।
🌞 सूर्योदय – प्रातः 6.01
🌅 सूर्यास्त – सायं 18.32
🌟 अभिजित मुहूर्त — कोई नहीं
✡️ विजय मुहूर्त दोपहर 02.30 पीएम से 03.21 पीएम तक
🗣️ निशिथ काल रात 11.59 एएम से 12.43 एएम तक (15 अप्रैल)
🐃 गोधूलि मुहूर्त शाम 06.34 पीएम से 06.57 पीएम तक
👸🏻 ब्रह्म मुहूर्त सुबह 04.26 एएम से 05.11 एएम तक (15 अप्रैल)
💧 अमृत काल पूर्वान्ह 11:58 एएम से 01:46 पीएम तक
❄️ रवि योग —सर्वार्थ सिद्धि योग शाम 05:23 पीएम से 05:56 एएम तक (15 अप्रैल)
💥 प्रीति योग- शाम 4 बजकर 14 मिनट तक
🪐 भरणी नक्षत्र- शाम 5 बजकर 23 मिनट
⭐ सर्वार्थसिद्धि योग- सारे काम बनाने वाले योग शाम 5 बजकर 27 मिनट से अगली सुबह सूर्योदय तक रहेगा।
🚓 यात्रा शकुन-हरे फ़ल खाकर अथवा दूध पीकर यात्रा पर निकलें।

नवरात्र है आज दूसरा, करें मां ब्रह्मचारिणी की पूजा।

नवरात्र है आज दूसरा, कौन-सा मंत्र या उपाय है कारगर


आज का मंत्र-ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं स: बुधाय नम:। आज का उपाय-बटुक को हरे फल सहित धर्मशास्त्र दान करें। वनस्पति तंत्र उपाय अपामार्ग के वृक्ष में जल चढ़ाएं। पर्व व त्यौहार- नवरात्रि का दुसरा दिन, मां ब्रह्मचारिणी व्रत, श्री झूलेलाल जयंती महोत्सव रमज़ान 9 माह शुरू, खर मास समाप्ति, डॉ भीमराव आंबेडकर जयंती, बैशाखी (पंजाब)। विशेष – द्वितीया तिथि को कटेरी फल का तथा तृतीया तिथि को नमक का दान और भक्षण दोनों त्याज्य बताया गया है। द्वितीया तिथि सुमंगला और कार्य सिद्धिकारी तिथि मानी जाती है। इस द्वितीया तिथि के स्वामी भगवान ब्रह्माजी हैं। यह द्वितीया तिथि भद्रा नाम से विख्यात मानी जाती है। यह द्वितीया तिथि शुक्ल पक्ष में अशुभ तथा कृष्ण पक्ष में शुभ फलदायिनी होती है।

Navratri Day 2, Ma Brahmacharini : https://www.youtube.com/watch?v=EJ6Hzpw_e9Q