स्मृति ईरानी पर प्रियंका चतुर्वेदी का निशाना-‘क्योंकि मंत्री भी कभी ग्रेजुएट थी’

smriti irani
The Union Minister for Textiles and Information & Broadcasting, Smt. Smriti Irani interacting with the media regarding the cabinet approval for the Integrated Scheme for Development of Silk Industry, in New Delhi on March 22, 2018.

सियासत में शब्दों को मर्यादाएं सारी सीमाएं लांघ जाती हैं। इसकी बानगी 2019 के लोकसभी चुनाव में भी दिख रही है और इससे पहले साल 2014 के लोकसभा चुनाव में भी इसकी झलक देखने को मिली थी। तब कांग्रेस ने पीएम नरेंद्र मोदी के उम्मीदवार बनने के बाद उनके परिवार, पत्नी, शिक्षा सहित तमाम पहलुओं को खंगाल डाला था। बीजेपी भी कांग्रेस नेताओं के खिलाफ इस तरह के सियासी हथियारों का इस्तेमाल करती रही है।

2019 के लोकसभा चुनाव में भी इस तरह के आरोप-प्रत्यारोपों का सूखा नहीं है बल्कि सभी नेता इस जंग में अव्वल रहने की फिराक में हैं। भारतीय जनता पार्टी की नेता स्मृति ईरानी की शिक्षा और डिग्री से जुड़े से विवाद सियासी गलियारे में तूल पकड़ते रहे हैं। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय का कार्यभार संभाल चुकीं स्मृति की शैक्षणिक योग्यता पर घमासान मचा हुआ है।

कांग्रेस की प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने टीवी कलाकार रह चुकीं स्मृति ईरानी पर निशाना साधते हुए उनके पुराने सीरियल ‘क्योंकि सांस भी कभी बहू थी’ के अंदाज में तंज कसते हुए एक नया गाना गया। इसके बोल थे- ‘क्योंकि मंत्री भी कभी ग्रेजुएट थी।’ नीचे आप इसका वीडियो देख सकते हैं।

इससे पहले भी स्मृति ईरानी अपनी शैक्षिक योग्यता को लेकर चर्चा में रह चुकी हैं। दरअसल नामांकन के दौरान केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने चुनाव आयोग में जो हलफनामा दाखिल किया उसने अनुसार वह ग्रेजुएट नहीं हैं। शैक्षिक योग्यता में उन्होंने लिखा- दिल्ली यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ ओपन लर्निंग से बैचलर ऑफ कॉमर्स पार्ट-1।

इस कोर्स का साल है 1994 और स्मृति ईरानी ने लिखा है कि उनका कोर्स अब तक पूरा नहीं हुआ है। साल 2014 में भी स्मृति ईरानी ने यही शैक्षिक योग्याता घोषित की थी लेकिन साल 2004 में कपिल सिब्बल के खिलाफ दिल्ली के चांदनी चौक से चुनाव लड़ने के दौरान उन्होंने लिखा था कि उन्होंने साल 1996 में दिल्ली यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ कॉरस्पांडेंस से बैचलर ऑफ आर्ट किया है। इन्हीं बदलती जानकारियों को लेकर कांग्रेस को निशाना साधने का मौका मिल गया है- ‘क्योंकि मंत्री भी कभी ग्रेजुएट थी’

यह भी पढ़ें: http://Congress claims threat to Rahul in Amethi; says laser, possibly from sniper gun, pointed at him