ये घरेलू नुस्खे हैं बड़े काम के/ Easy Home Remedies

छोटे-छोटे दर्द और बीमारियां हमें घेर न लें, इसके लिये हम अक्सर घरेलू नुस्खे आज़माते ही रहते हैं। बावजूद इसके कभी-कभार हमें हल्के-फुल्के दर्द और परेशानियों से दो-चार होना ही पड़ता है। हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ ऐसे घरेलू नुस्खे जिन्हें अपना कर आप इन सेहत संबंधी परेशानियों से आसानी से निज़ात पा पाएंगे। 

दांत दर्द

हल्दी एवं सेंधा नमक महीन पीसकर, उसे शुद्ध सरसों के तेल में मिलाकर सुबह-शाम मंजन करने से दांतों का दर्द बंद हो जाता है।
दांतों के सुराख 

कपूर को महीन पीसकर दांतों पर उंगली से लगाएं और उसे मलें। सुराखों को भली प्रकार साफ कर लें। फिर सुराखों के नीचे कपूर को कुछ समय तक दबाकर रखने से दांतों का दर्द निश्चित रूप से समाप्त हो जाता है।
बच्चों के पेट के कीड़े 

छोटे बच्चों के पेट में कीड़े हों तो सुबह एवं शाम को प्याज का रस गरम करके 1 तोला पिलाने से कीड़े अवश्य मर जाते हैं। धतूरे के पत्तों का रस निकालकर उसे गरम करके गुदा पर लगाने से चुन्ने (लघु कृमि) से आराम हो जाता है।
आग से जल जाने पर 

कच्चे आलू को पीसकर रस निकाल लें, फिर जले हुए स्थान पर उस रस को लगाने से आराम हो जाता है। इसके अतिरिक्त इमली की छाल जलाकर उसका महीन चूर्ण बना लें।

उस चूर्ण को गाय के घी में मिलाकर जले हुए स्थान पर लगाने से आराम हो जाता है।
कान की फुंसी 

लहसुन को सरसों के तेल में पकाकर, उस तेल को सुबह, दोपहर और शाम को कान में 2-2 बूंद डालने से कान के अंदर की फुंसी बह जाती है अथवा बैठ जाती है तथा दर्द समाप्त हो जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here