दो दिन के दौरे पर श्रीनगर पहुंचा 24 विदेशी राजदूतों का दल, जम्मू का भी करेंगे दौरा

24 foreign envoys

24 विदेशी राजदूतों का दल बुधवार को दो दिनों के दौरे पर श्रीनगर पहुंचा। जम्मू- कश्मीर का वर्ष 2019 में विशेष दर्जा खत्म किए जाने के बाद वहां के हालात का जायजा लेने फ्रांस, यूरोपीय संघ और मलेशिया समेत 24 देशों के राजदूतों का एक प्रतिनिधिमंडल दो दिवसीय दौरे पर केंद्र शासित प्रदेश पहुंचा है। अधिकारियों ने बताया कि इस प्रतिनिधिमंडल में यूरोप, अफ्रीका, दक्षिण अमेरिका और एशिया के देशों के राजदूत हैं। प्रतिनिधिमंडल को मध्य कश्मीर के बड़गाम में एक सरकारी कॉलेज ले जाया गया, जहां प्रशासन ने उनका स्वागत किया और पंचायत समेत स्थानीय निकायों को मजबूत किए जाने के कदमों के बारे में अवगत कराया।

विदेशी राजदूतों का दल मेयर, डीडीसी प्रतिनिधियों से मिला

24 Envoy

यूरोपीय संघ, फ्रांस, मलेशिया, ब्राजील, इटली, फिनलैंड, बांग्लादेश, क्यूबा, चिली, पुर्तगाल, नीदरलैंड, बेल्जियम, स्पेन, स्वीडन, सेनेगल, ताजिकिस्तान, किर्गिस्तान, आयरलैंड, घाना, एस्टोनिया, बोलीविया, मलावी, इरीट्रिया और आयवरी कोस्ट के राजनयिक कड़ी सुरक्षा के बीच शहर पहुंचे। अधिकारियों ने बताया कि रस्मी संबोधन के बाद प्रतिनिधियों को पंचों और सरपंचों के साथ बात करते हुए देखा गया।

गुरूवार को जाएंगे जम्मू

घाटी की यात्रा के दौरान प्रतिनिधमंडल के सदस्य जिला विकास परिषद के सदस्यों और नागरिक संस्थाओं के प्रतिनिधियों से भी मिले। वे डल झील के किनारे स्थित हजरतबल दरगाह भी गये। प्रतिनिधिमंडल का बृहस्पतिवार को जम्मू का दौरा करने और केंद्रशासित प्रदेश के अधिकारियों के साथ चर्चा करने की संभावना है। प्रतिनिधिमंडल के जम्मू कश्मीर आगमन के मौके पर श्रीनगर का कुछ हिस्सा बंद रहा।

विदेशी राजदूतों का दल जम्मू-कश्मीर में

शहर के लाल चौक और आसपास के इलाके में दुकानें बंद रही क्योंकि प्रतिनिधिमंडल के दौरे की सुरक्षा के मद्देनजर प्रशासन ने वहां पर अतिरिक्त सुरक्षाकर्मियों की तैनाती की है।