इस फैस्टिव सीज़न लाइट वेट फैशन ज्वैलरी

 

फैस्टिव सीज़न शुरू हो चुका है साथ ही शुरू हो चुकी है । आपकी ड्रेस चाहे जितनी भी खूबसूरत हो , अगर उसके साथ एक्सेसरीज़ मैचिंग ना हो तो आपका लुक अधूरा लगता है। ऐसे में हर एक की चाह होती है डिज़ायनर ज्वैलरी खरीदने की…लेकिन ये काफी महंगी होती हैं जो आपका बजट हिला सकती है। साथ ही मेटल की होने की वजह से ये काफी हैवी भी होती हैं जिससे इन्हें कैरी करना काफी मुश्किल होता है….ऐसे में महिलाएं तलाश करती हैं ऐसी ज्वैलरी की जो डिज़ायनर होने के साथ-साथ कम्फर्टेबल भी हों ।….और अगर वो बजट में मिल जाएं तो इससे अच्छा भला क्या हो सकता है….ऐसे में पेपर ज्वैलरी आपके लिए एक अच्छा ऑपशन हो सकती है।

 


जी हां, कलर्ड पेपर से तैयार होने वाली ये ज्वैलरी ना सिर्फ आपको स्टाइलिश लुक देगी बल्कि ये आपके बजट में भी बिल्कुल फिट बैठेगी। पेपर से बनने बाली इस ज्वैलरी टेक्निक को पेपर क्विलिंग कहते हैं। इस ज्वैलरी को आप अपनी ड्रेस के अकॉर्डिंग डिज़ाइन करवा सकते हैं। ये हल्की होने की वजह से काफी कम्फर्टेबल भी होती है….यकीन मानिए ये आपको भीड़ से अलग लुक देगी….दरअसल, ये मार्केट्स में किसी दुकान पर नहीं मिलती…इसे पेपर ज्वैलरी डिज़ायनर से ही आप ले सकते हैं। बाज़ारों में खुलेआम ना बिकने की वजह से ये पूरी तरह से एक्सक्लूसिव होती है। कुछ बुटीक्स में भी ड्रेसेज़ के मुताबिक इन्हें डिज़ाइन करवाया जाता है। वेस्टर्न हो या ऐथनिक हर तरह के डिज़ाइन इसमें तैयार किए जाते हैं. लेकिन अगर आप सोच रहे हैं कि एक ही दिन में ये आपको तैयार होकर मिल जाएगी तो इसके लिए आपको थोड़ा इंतज़ार करना होगा। दरअसल इसको तैयार करने में कम से कम तीन दिन से एक हफ्ते का समय लगता है लिहाज़ा अगर आप अपने हिसाब से ज्वैलरी डिज़ाइन करवाना चाहते हैं तो आपको ऑकेज़न से एक हफ्ता पहले मेकर्स को समय देना होगा।

 


अब बात करते हैं इसकी ड्यूरेबिलिटी की….दरअसल पेपर की होने की वजह से ये काफी डेलिकेट होती है…लिहाज़ा इसका खास ख्याल रखना पड़ता….खासकर इसे पानी से बचाना होता है…बैसे तो इस पर वाटर फ्रूफ कोटिंग की जाती है लेकिन ये पूरी तरह से इसे पानी से नहीं बचा सकती…इसके अलावा इन्हें मेटल की ज्वैलरी से अलग, एक बॉक्स में रखना चाहिए…क्योंकि हेवी वेट पड़ने से इनकी शेप्स बिगड़ सकती हैं।
अब सबसे अहम बात इनके रेट्स की….वैसे तो इसके प्राइज़ डिपेंड करते हैं कि ज्वैलरी कितनी हैवी है या उसका डिज़ाइन कैसा है….लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि इसकी एक्सक्लूसिव रेज़ 35 रुपय से स्टार्ट हो जाती है जो दो-ढाई हज़ार तक जाती है….कॉलेज गोइंग गर्ल्स, वर्किंग वूमन और डेली वियर में अगर आप इसे कैरी करना चाहते हैं तो 100 रुपए के अदंर आपको अच्छे ऑपशन मिल सकते हैं।
बड़े शहरों में पेपर ज्वैलरी काफी इन है और महिलाओं को काफी पंसद भी आ रही है…लिहाज़ा इसकी डिमांड में भी तेज़ी से इज़ाफा हुआ है…डिमांड को देखते हुए कुछ स्टोर्स में अब ये एवलेबल भी है…तो तैयार हो जाइए इस फैस्टिव सीज़न में अपने एक्सक्लूसिव लुक के लिए….

 


मोनिका वर्मा, पेपर ज्वैलरी डिज़ायनर, दिल्ली

फेस्टिव सीज़न का आगाज़ हो चुका है लिहाज़ा लोग इस समय ऐथनिक लुक पर ज्यादा फोकस कर रहे हैं। डांडिया, करवा चौथ और दीपावली के लिए महिलाएं ट्रेडिशनल डिज़ायन्स को ज्यादा पसंद कर रही हैं। डांडिया के लिए जहां गुजराती लुक चाहिए, वहीं करवा चौथ के लिए ब्राडइल सेट्स तैयार किए जा रहे हैं। पहले इस ज्वैलरी के बारे में लोग जानते नहीं थे लेकिन यकीन मानिए जो भी इसे एक बार इस्तेमाल कर ले उसकी ये पहली पसंद बन जाती है। इस साल की बात करें तो रिस्पॉन्स काफी अच्छा है और बुकिंग बीते एक महीने पहले से ही हो रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here