विश्वस्तरीय सुविधाओं से सजेगा उज्जैन, जयवर्धन सिंह ने महाकाल मंदिर को संवारने का लिया संकल्प…

mahakal
   राजेन्द्र वशिष्ठ, डॉ.ब्रह्मदीप अलूने

विश्वस्तरीय सुविधाओं से उज्जैन को सुस्सजित किया जाएगा और नगरीय प्रशासन और आवास मंत्री जयवर्धन सिंह ने महाकाल मंदिर को संवारने का लिया संकल्प…  दुनिया भर में महाकाल की महिमा स्वीकार की जाती है और करोड़ों लोगों की आस्था उज्जैन स्थित महाकालेश्वर मंदिर में है। महाकाल मन्दिर में हजारों श्रद्धालु प्रति दिन दुनिया  के कोने कोने से यहां दर्शन करने आते है। अब मध्य प्रदेश सरकार ने जल्दी ही महाकाल मंदिर से लगे सम्पूर्ण क्षेत्र को विश्वस्तरीय सुविधाओं से सुसज्जित करने की योजना को हरी झंडी दे दी है।

mahakal jaivardhan singh

हाल ही में  उज्जैन की यात्रा पर आये नगरीय प्रशासन और आवास मंत्री जयवर्धन सिंह ने महाकाल को लेकर एक मेगा प्रोजेक्ट की आधारशिला रखी। इसके अनुसार महाकाल के विकास के लिए इसे पांच भागों में विभाजित किया गया है जिसका उद्देश्य श्रद्धालुओं को सुविधाएँ देना और पर्यटकों को आकर्षित करना है। इस प्रोजेक्ट के पूरा होते ही सम्पूर्ण महाकाल क्षेत्र बेहद आकर्षक दिखने लगेगा जहां रूद्र सागर किसी विदेशी झील जैसा नज़र आएगा तो मल्टी लेवल पार्किंग और महाकाल कोरिडोर सहित अन्य सुविधाएं शानदार होगी।

 यह है प्रोजेक्ट का खाका यहां देखें…….( पीडीएफ में देखें पूरा प्रोजेक्ट)

MRIDA

इस योजना के अनुसार महाकाल क्षेत्र की शुरुआत में ही पार्किंग प्लाज़ा होगा। जहां त्रिवेणी संग्रहालय के करीब  52 फिट के दो शिव स्तंभ बनेंगे, यहां म्यूज़िकल फाउंटेन होगा। इसमें एक ओपन थियेटर भी होगा, जिसमें 300 लोगों के बैठने की व्यवस्था होगी। ई व्हीकल समेत कैफ़े एरिया भी यहां बनाया जायेगा। इसके बाद दूसरे भाग में मिडवे ज़ोन बनाया जाएगा जो  सुरक्षा की दृष्टि से बेहद आधुनिक सुविधाओं से लैंस होगा। यहाँ क्राफ्ट बाज़ार की शानदार व्यवस्था की जाएगी।

महाकाल थीम पार्क होगा आकर्षण का केन्द्र

तीसरे भाग में महाकाल थीम पार्क को बेहद आकर्षक बनाया जा रहा है और यहाँ भगवान शिव की जीवन पर आधारित विभिन्न मूर्तियाँ होंगी । यह इलाका छायादार होगा जिसमें आकर्षण का केंद्र छतरियां होंगी। योजना का चौथा भाग महाकाल मन्दिर के ठीक पीछे के विकास पर केंद्रित होगा जहां लेक फ्रंट डेवलपमेंट किया जायेगा। यहाँ पर लेजर शो का आनन्द लिया जा सकेगा और तालाब बेहद आकर्षक दिखेगा। विकास का पांचवां भाग  महाकाल मंदिर में प्रवेश से ठीक पहले महाकाल कोरिडोर पर आधारित होगा जहाँ पर स्मार्ट पोल शिव की थीम पर पर्यटकों का मन मोह लेंगे। लाइट पोल्स,स्ट्रीट फर्नीचर,रिटेनिंग फर्नीचर भी होगे।इसके साथ ही रिटेनिंग वाल का निर्माण होगा जिस पर शिव नृत्य की विभिन्न मुद्राएँ होंगी।

श्रद्धालुओं को मिलेगी सुविधाएं

mahakal

इस प्रोजेक्ट के पूरा होने से महाकाल आने वाले लाखों भक्तों को सुविधाएँ भी मिलेगी और उनके रुकने के पुख्ता इंतज़ामात भी होंगे। नगरीय प्रशासन और आवास मंत्री जयवर्धन सिंह ने इस प्रोजेक्ट को पूरा करने  के लिए आधिकारियों को तुरंत निर्देश भी दे दिए है। जाहिर है इस योजना के फलीभूत होने से उज्जैन पर्यटन के केंद्र के रूप में भी उभरेगा जिससे उद्योग और अन्य व्यवसाय के रास्ते भी खुलेंगे और बड़ी संख्या में रोजगार के अवसर भी बढ़ेगे।

MRIDA