इसी हफ्ते हो सकती है हरियाणा विधानसभा चुनाव की घोषणा

0
12
cm manohar lal
cm manohar lal
  • खट्टर सरकार का कार्यकाल 2 नवंबर को होगा खत्म
  • इससे पहले होना है नयी सरकार का गठन

इसी हफ्ते हो सकती है हरियाणा विधानसभा चुनाव की घोषणा। खट्टर सरकार का कार्यकाल इसी 2 नवंबर को खत्म होना है। ऐसे में 2 नवंबर से पहले नयी सरकार का गठन होना है। भारतीय निर्वाचन आयोग ने हरियाणा से लगातार संपर्क बनाया हआ है। हरियाणा के साथ ही महाराष्ट्र व झारखंड सहित पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव प्रस्तावित हैं।

shailja hudda
shailja hudda

संभावना जताई जा रही है कि श्राद्ध शुरू होने से पहले चुनाव कार्यक्रम घोषित हो सकता है। सरकार से जुड़े सूत्रों का कहना है कि चुनाव शेड्यूल जारी होने से पहले खट्टर कैबिनेट की एक बैठक भी हो सकती है। वहीं, मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा चुनाव से पहले होने वाली घोषणाओं का प्रारूप बनाया जा रहा है। माना जा रहा है कि चुनाव को देखते हुए सरकार की ओर से कई बड़ी घोषणाएं हो सकती हैं। सभी विभागों से ऐसी घोषणाओं का ब्योरा मांगा गया है, जो चुनाव के लिहाज से पार्टी के लिए फायदेमंद साबित हों। http://www.indiamoods.com/family-courts-to-be-set-up-in-6-more-districts-of-haryana/

इसी हफ्ते हो सकता है कार्यक्रम घोषित, पहले करेंगे घोषणा

Chautala
Chautala

कई ऐसे बड़े प्रोजेक्ट हैं जिनका शिलान्यास सरकार चुनाव कार्यक्रम जारी होने से पहले करने की तैयारी में है। उन विकास परियोजनाओं का उद्घाटन भी होगा, जो पूरी हो चुकी हैं। सूत्रों का कहना है कि कई ऐसे प्रोजेक्ट थे, जिनका उद्घाटन व शिलान्यास पीएम नरेंद्र मोदी के हाथों रविवार को रोहतक में हुई ‘विजय संकल्प रैली’ के दौरान ही किया जाना था लेकिन प्रधानमंत्री ने चुनिंदा प्रोजेक्ट का ही उद्घाटन व शिलान्यास किया।

दर्जनों की संख्या में योजनाओं को लंबित रख दिया गया। संभवत: इन विकास योजनाओं व परियोजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास अब मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर खुद करेंगे।

इसी हफ्ते हो सकता है ऐलान, संकल्प पत्र होगा जारी

manohar-lal-khattar-pti
manohar-lal-khattar-pti

पार्टी ने इस बार घोषणा-पत्र की जगह चुनावी ‘संकल्प-पत्र’ जारी करने का निर्णय लिया है। संकल्प-पत्र तैयार करने के लिए कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ की अध्यक्षता में कमेटी का गठन किया गया है। धनखड़ कमेटी चुनाव में किए जाने वाले वादों को लेकर समाज के विभिन्न वर्गों से फीडबैक जुटा चुकी है। कर्मचारियों, महिलाओं, किसानों, मजदूरों, व्यापारियों, उद्योगपतियों सहित विभिन्न वर्गों के लोगों से सीधा संवाद करके संकल्प-पत्र का प्रारूप बनाया गया है।

बताते हैं कि धनखड़ कमेटी के पास आए सुझावों पर अब सीएम जल्द ही बैठक कर सकते हैं। इसी बैठक में संकल्प-पत्र में शामिल किए जाने वाले मुद्दों को अंतिम रूप दिया जाएगा। इस दौरान सरकार 2014 के चुनावी घोषणा-पत्र की समीक्षा भी करेगी।